Jobs haryana news
Coldest Places in India: जानिए भारत के इन 5 बर्फीले शहरों के बारे में, जिनके सामने स्विट्जरलैंड भी है फेल
 
शहर

Coldest Places in India: सर्दी का मौसम आते ही शहरों में तेज और ठंडी हवाएँ चलने लगती है, क्योंकि पहाड़ों पर बर्फबारी के सीजन की शुरुआत हो जाती है। ऐसे में बहुत से लोग बर्फबारी का लुफ्त उठाने के लिए पहाड़ी इलाकों की सैर पर निकलते हैं, जहाँ उन्हें प्रकृति के खूबसूरत नजारे देखने को मिलते हैं।


 
ऐसे में आज हम आपको भारत में मौजूद कुछ ऐसे बर्फीले हिल स्टेशन्स (Coldest Places in India) के बारे में बताने जा रहे हैं, जहाँ सर्दियों के मौसम में घूमने का अलग मजा है। हमें पूरा यकीन है कि आपने आज से पहले इन बर्फीले डेस्टिनेशन्स के बारे में नहीं सुना होगा, जहाँ पहुँच कर आपको जन्नत का एहसास होगा।

लेह (Leh)
Leh-Snowfall
लद्दाख की राजधानी लेह शहर पर्यटन के लिहाज से बहुत ही लोकप्रिय है, जहाँ आपको ऊंचे-ऊंचे पहाड़ों के साथ दूर-दूर फैली हुई बर्फ की चादर भी दिखाई देगी। इस शहर में शांति स्तूप, लेह पैलेस, पेन्गॉन्ग लेक और व्यू प्वाइंट मौजूद हैं, जहाँ पर्यटकों प्रकृति का एक अनोखा नजारा देखने को मिलता है।

by TaboolaSponsored LinksYou May Like
Online Data Entry Job in USA from India. Salaries Might surprise you
Work Remotely in USA | Search Ads
सर्दी के मौसम में लेह का न्यूनतम तापमान-28.3 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है, जहाँ रोड ट्रिप से जाने पर अगल बगल बर्फ की मोटी दीवार दिखाई देती है। बॉलीवुड फिल्म ‘जब वी मेट’ (Jab We Met) का गाना ‘ये इश्क हाये’ लेह की इन्हीं बर्फीली सड़कों के बीच फिल्माया गया है।

काज़ा (Kaza)
Snowfall-in-Kaza
हिमाचल प्रदेश के स्पीति जिले में स्थित काज़ा एक छोटा-सा हिल स्टेशन है, जो स्पीति घाटी के बीच बसा हुआ है। काज़ा तिब्बत और भारत की सीमा के बीच स्थित है, इसलिए यहाँ से बर्फ से ढके पहाड़ों को बहुत ही खूबसूरत और मनमोहक नजारा दिखाई देता है। इस जगह पर साल बौद्ध धर्म अनुयायी इकट्ठा होते हैं, जो विभिन्न प्रकार के धार्मिक त्यौहारों का आयोजन करते हैं।


 
काज़ा में बौद्ध संस्कृति की झलक देखने को मिलती है, जो समुद्र तल से 3, 800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इस जगह पर याक मोमोज बहुत ज्यादा मशहूर डिश है, जो ठंडे तापमान में बॉडी को गर्माहट देने का काम करते हैं। अगर आप बौद्ध धर्म की झलक के साथ-साथ बर्फीले पहाड़ों का व्यू देखना चाहते हैं, तो एक बार काज़ा जरूर जाए।

नॉर्थ सिक्किम (North Sikkim)
North-Sikkim-Sowfall
नॉर्थ सिक्किम में सर्दी की छुट्टियाँ बिताना एक बहुत ही रोमांचक प्लान साबित हो सकता है, क्योंकि इस जगह पर लाचुंग और थांगू वैली (LACHEN AND THANGU VALLEY) नामक दो सबसे ठंडे हिल स्टेशन मौजूद हैं। सर्दियों में इन दोनों जगहों का तापमान-40 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है, जिसे झेल पाना हर किसी के बस की बात नहीं होती है।

हालांकि एवेंचर और बर्फबारी के शौकीन पर्यटक यहाँ मौजूद जीरो प्वाइंट, लाचुंग मॉनेस्ट्री और क्रो लेक घूमने का मौका बिल्कुल भी मिस नहीं सकते हैं, क्योंकि सर्दी के मौसम में यहाँ का अद्भुत नजारा विदेश की याद दिलाता है। लेकिन ज्यादातर टूरिस्ट ठंडे मौसम को न झेल पाने की वजह से गर्मी के मौसम में नॉर्थ सिक्किम घूमने जाते हैं।

कारगिल (Kargil)
Snowfall-in-Kargil
कारगिल भारत का एक महत्त्वपूर्ण शहर है, जो हमेशा युद्ध और सीमा विवाद के चलते सुर्खियों में रहता है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि कारगिल एक बहुत ही खूबसूरत और बर्फीली जगह है, जहाँ आप सर्दियों में छुट्टियाँ मनाने के लिए जा सकते हैं।

कारगिल समुद्र तल 2, 676 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, जहाँ से सुरू नदी का मनमोहक नजारा दिखाई देता है। लेकिन सर्दी के मौसम अक्सर नदी बर्फ में जम जाती है, जहाँ स्केटिंग करने का अलग ही मजा है।

कारगिल से 15 किलोमीटर की दूरी पर पशखूम शहर स्थित है, जहाँ के खंडहर और महल पर्यटन के लिहाजा बहुत ही फेमस हैं। जबकि कारगिल और लेह रोड के बीच बौद्ध शहर मौजूद है, जिसे मलबेक के नाम से जाता है। इसलिए अगर आप ठंडे तापमान के साथ बर्फबारी का लुफ्त उठाना चाहते हैं, तो कारगिल एक बेस्ट डिस्टिनेशन साबित हो सकता है।

द्रास (Dras)
Dras-Sonwfall
लद्दाख की यूनियन टेरिटरी के अंतर्गत कारगिल जिले में स्थित द्रास एक छोटा-सा हिल स्टेशन है, जो अपनी खूबसूरत वादियों और बर्फबारी के लिए जाना जाता है। इस जगह पर पर्यटकों की बहुत ज्यादा भीड़ देखने को नहीं मिलती है, क्योंकि यहाँ लद्दाख घूमने जाने वाले सैलानी ही आते हैं।

हालांकि अमरनाथ यात्रा में शामिल होने वाले श्रद्धालु इस खूबसूरत गाँव में घूम सकते हैं, क्योंकि इस यात्रा की शुरुआत द्रास से ही होती है। सर्दियों में द्रास का न्यूनतम तापमान-45 डिग्री तक लुढ़क जाता है, जहाँ सैलानी बर्फबारी के साथ-साथ कड़ाके की ठंड का भी लुफ्त उठाते हैं।

आपको बता दें कि द्रास में सबसे कम तापमान साल 1995 में रिकॉर्ड किया गया था, उस समय इस जगह का पारा-65 डिग्री सेल्सियस तक नीचे लुढ़क गया था। द्रास में आप गर्मागर्म खाने के साथ ऊनी कपड़ों की शॉपिंग कर सकते हैं और बर्फ पर स्केट्रिंग का लुफ्त उठा सकते हैं।

भारत के इन खूबसूरत और बर्फीले हिट स्टेशन (Coldest Places in India) के बारे में जानकर आपको भी यहाँ जाने का मन कर रहा होगा, लेकिन यहाँ जाने से पहले गर्म ऊनी कपड़े और मोटी जैकेट अपने साथ रखना बिल्कुल न भूलें।