Jobs haryana news
किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी! गन्ने के रेटों मे आई भारी तेजी, नई रेट लिस्ट यहाँ देखें
 
गन्ने

पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के बाद अब राजस्थान (Rajasthan) सरकार ने भी गन्ने के दाम में भी वृद्धि कर दी है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गन्ना उत्पादक किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए पेराई सत्र 2021-22 के लिए राजस्थान राज्य गंगानगर शुगर मिल द्वारा गन्ने के खरीद मूल्य में 50 रुपये प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी ( Sugarcane Price Hike) को मंजूरी दी है.

गहलोत के इस फैसले से गन्ना उत्पादक किसानों (Farmers) को अच्छा दाम मिलेगा. इस फैसले के बाद गंगानगर शुगर मिल द्वारा अब अगेती किस्म के गन्ने की खरीद 360 रुपये प्रति क्विंटल, मध्यम श्रेणी के गन्ने की 350 रुपये और पछेती किस्म के गन्ने की 345 रुपये प्रति क्विंटल दर से खरीद की जाएगी.

इस क्षेत्र के गन्ना उत्पादक किसानों द्वारा गन्ने की खरीद दर में काफी समय से वृद्धि करने की मांग की जा रही थी. इस मांग पर निर्णय लेते हुए गहलोत ने गन्ने के खरीद मूल्य में बढ़ोतरी को मंजूरी दी है. इससे राज्य के गन्ना उत्पादक काश्तकारों को लगभग 5 करोड़ रुपये प्रति पेराई सत्र की अतिरिक्त आय प्राप्त होगी.

राजस्थान में कितना क्षेत्र, कितना उत्पादन

राजस्थान में गन्ने का उत्पादन नाममात्र का ही होता है. यहां देश का सिर्फ 0.5 फीसदी ही गन्ना पैदा होता है. कम उत्पादन की वजह से यहां महज तीन ही चीनी मिलें हैं. राजस्थान में बूंदी जिला गन्ना उत्पादन में आगे है. राजस्थान में 2020-21 के दौरान 4,000.90 हेक्टेयर में गन्ने की खेती हुई थी. जबकि 2,85,000.05 टन उत्पादन हुआ था.

हरियाणा में गन्ने का कितना है दाम

सितंबर 2021 में हरियाणा सरकार ने गन्ने का दाम 340 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 362 रुपये क्विंटल कर दिया था. अभी तक यह देश में सर्वाधिक है. हरियाणा में इस समय गन्ने की अगेती किस्म के लिए 362 रुपये प्रति क्विंटल व पछेती के लिए 355 रुपये का रेट तय है. हालांकि, हरियाणा भी कोई बहुत बड़ा गन्ना उत्पादक सूबा नहीं है. यहां सिर्फ 11 चीनी मिलें हैं.

पंजाब में गन्ने का क्या है रेट

अगस्त 2021 में पंजाब सरकार ने गन्ने के रेट (Sugarcane Price in Punjab) में 60 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि कर दी थी. इसके साथ ही पंजाब में गन्ने का रेट 310 रुपये से बढ़कर 360 रुपये हो गया था. पंजाब के किसान 400 रुपये प्रति क्विंटल के रेट को लेकर आंदोलन कर रहे थे. वहां के किसान संगठनों का दावा था कि गन्ने की लागत 388 रुपये प्रति क्विंटल आती है. हालांकि, सरकार ने बीच का रास्ता अपनाते हुए 360 रुपये का रेट तय किया.

उत्तर प्रदेश में गन्ना मूल्य

देश के सबसे बड़े गन्ना उत्पादक प्रदेश उत्तर प्रदेश में इसका रेट सिर्फ 350 रुपये प्रति क्विंटल है. यहां विधानसभा चुनाव के दबाव में सरकार ने सितंबर में 25 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि की थी. यूपी में पछेती किस्म के गन्ने की कीमत 340 रुपये प्रति क्विंटल है. किसान 400 रुपये प्रति क्विंटल का रेट मांग रहे थे.

किसानों की आर्थिक सेहत के लिए 'बूस्टर डोज' बन सकती है हल्दी, पांच साल में डबल से भी अधिक हुआ एक्सपोर्ट

पीएम किसान स्कीम: क्यों रोका गया 60.30 लाख किसानों का पैसा?