Jobs haryana news
सावधान ! आपके पास भी आ भी आ रहा ये SMS, गलती से भी न आये झांसे में, हो सकते हैं भारी नुकसान
 
 Are such messages of income tax coming to you too

आज के समय में साइबर फ्रॉड लोगों को लूटने का एक मौका नहीं छोड़ते, बस आपकी एक गलती और चूना लगाकर गायब हो जाते हैं। इसलिए सतर्क रहना बेहद आवश्यक है। दरअसल इनकम टैक्स डिपार्टमेंट कभी भी इनकम टैक्स रिफंड के लिए आपका क्रेडिट या डेबिट कार्ड नंबर शेयर करने की बात नहीं करता। ना ही इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से आप से आपका सीवीवी (CVV)नंबर और ओटीपी मांगा जाता है। इसलिए अगर आपको कभी भी ऐसे मैसेज या ईमेल आते हैं। तो तुरंत समझ जाएं कि यह फ्रॉड है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नाम से रिफंड के मैसेज पर अपनी कोई भी डिटेल ना दें। साथ ही अगर इस मैसेज या ईमेल में किसी लिंक पर क्लिक करने की बात कही गई है, तो इससे बचें। क्योंकि आयकर विभाग की ओर से ऐसे मैसेज नहीं भेजे जा रहे हैं खुद इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने लोगों को ऐसे मैसेज से सावधान रहने की बात कही है। साथ ही एक ट्वीट भी जारी किया है जिसमें किसी भी ऐसे मैसज पर रिएक्ट करने से पहले उसे ठीक तरह से चेक करने की हिदायत दी गई है।

दरअसल ऐसे मैसेज भेजकर आपको नुकसान हो सकता है। क्योंकि इन मैसेज में अकसर एक लिंक दिया जाता है। जैसे ही आप उसपर क्लिक करेंगे, उसमें आपको पर्सनल डिटेल भरने को कहा जाता है। जिसमें बैंक डिटेल्स, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड के बारे में जानकारी मांगी जाएगी। इसमें क्लिक करने मात्र से आपकी जानकारी आपके कार्ड की जानकारी चुरा ली जाती है इसलिए ऐसे लिंक पर क्लिक करने से बचें।

अगर आप थोड़ी सावधानी रखें तो खुद भी ऐसे फ्रॉड मैसेज का पता लगा सकते हैं। अगर मैसेज या ई-मेल किसी फ्रॉड की ओर से भेजा गया है। तो आयकर विभाग ने कहा कि SMS या मेल भेजने वाले का नाम जरूर चेक करें। साथ ही फेक ई-मेल में गलत स्पेलिंग या इनकम टैक्स वेबसाइट का गलत हैडर दिया होगा। इसलिए उन्होंने ट्वीट के जरिए सही यूआरएल भी दिया है, ताकि आपको समझने में परेशानी ना हो। इसलिए हमेशा ऐसे फ्रॉड मैसेज से बचने की कोशिश करें