Jobs haryana news
रिटायरमेंट के बाद वरदान से कम नहीं है यह योजना, हर महीने मिलेगी 9,250 रुपए पेंशन...सिर्फ इतना करना होगा निवेश
 
PENSON

जो कोई नौकरी करता है, उसकी एक ही इच्छा होती है कि रिटायरमेंट के बाद जीवन आराम से कटे। इसके लिए हर कोई अपने-अपने तरीके से जतन करता है। रिटायरमेंट के बाद किसी तरह की कोई आर्थिक परेशानी न हो, इसके लिए पेंशन प्लान या रिटायरमेंट प्लानिंग की सलाह दी जाती है।

कायदा तो यही है कि जब आप अपने प्रोफेशनल जीवन की शुरुआत करें तभी से रिटायरमेंट की प्लानिंग भी शुरू कर देनी चाहिए। बड़ी बात यह है कि अगर काम-धंधा या नौकरी करते हुए आपने रिटायरमेंट प्लान तैयार नहीं किया तो बुढ़ापे में भी नौकरी-चाकरी करनी पड़ेगी। या कोई और काम।

आज बाजार में तमाम सरकारी और प्राइवेट स्कीम्स हैं, जो अच्छा रिटायरमेंट प्लान मुहैया करा रही हैं। अगर आप सुरक्षित जगह पर पैसा लगाना चाहते हैं तो प्रधानमंत्री वय वंदना योजना आपके लिए एक बेहतरीन ऑप्शन है। पीएम वय वंदन योजना में आपका पैसा सुरक्षित रहेगा और निवेश कर आपको हर महीने एक तय पेंशन मिलेगी।

अगर आप एकमुश्त निवेश कर हर महीने पेंशन पाना चाहते हैं तो आपके लिए 'प्रधानमंत्री वय वंदना योजनाÓ, जो सरकारी पेंशन स्कीम स्कीम है, वरदान से कम नहीं है। यह स्कीम भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) द्वारा चलाई जा रही है। 4 मई, 2017 को केंद्र सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों को ध्यान में रखते हुए इसकी शुरुआत की थी।


 
इसकी खास बात है कि तमाम फिक्स्ड डिपॉजिट और पेंशन योजनाओं के मुकाबले इसमें अच्छा ब्याज मिल रहा है। इस समय पीएमपीपीवाई स्कीम में 7.40 फीसदी सालाना के हिसाब से ब्याज दिया जा रहा है। इस योजना में आप एकमुश्त पैसा जमा करके हर महीने एक निश्चित पेंशन प्राप्त कर सकते हैं।

इस योजना में लाभ के लिए एकमुश्त निवेश करना होगा। हर साल 1 अप्रैल को सरकार समीक्षा कर योजना के ब्याज में बदलाव करती है। इस योजना के तहत निवेश करने की अधिकतम सीमा पहले साढ़े सात लाख थी, जिसे अब 15 लाख रुपए कर दिया गया है।

नए संशोधनों के बाद 1000 रुपए मासिक पेंशन के लिए ग्राहक को न्यूनतम 1.62 लाख रुपये निवेश करने होंगे। तिमाही पेंशन के लिए 1.61 लाख, छमाही के लिए 1.59 लाख और सालाना पेंशन के लिए कम से कम 1.56 लाख रुपए निवेश करने होंगे।