Unemployment allowance: बेरोजागार युवाओं के लिए खुशखबरी, 1000 रूपये बढा बेरोजगारी भत्ता, देखें पूरी जानकारी

Jobs Haryana, Unemployment allowance

राजस्थान के बेरोजागार युवाओं के लिए खुशखबरी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सत्ता संभालते ही प्रदेश के बेरोजगार युवक-युवतियों को बेरोजगारी भत्ता (Unemployment Allowance) देने की घोषणा की थी। हाल ही में 24 फरवरी को बजट पेश करते हुए सीएम अशोक गहलोत ने राज्य में बेरोजगारी भत्ता 1000 रुपये बढ़ाने की घोषणा भी की है।

मुख्यमंत्री युवा संबल योजना (mukhyamantree Yuva Sambal Yojana) से करीब 2 लाख युवा को इसका लाभ मिलेगा। राज्य सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के लिए राजीव गांधी युवा कोर का गठन किया जाएगा। इसके साथ ही 2500 राजीव गांधी युवा मित्रों का चयन होगा।

यह भी पढें- 8वीं पास के लिए चपरासी और चौकीदार के पदों पर निकली भर्ती, जानिए आवेदन का सरल तरीका

 

बढें बेरोजगारी भत्ते (Unemployment Allowance) के तहत राजस्थान सरकार बेरोजगार युवाओं को मासिक 3000 रुपये और बेरोजगार युवतियों को 3500 रुपये आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान करेगी। बेरोजगारी भत्ता (Unemployment Allowance) के जरिये राजस्थान सरकार जिन्होंने न्यूनतम 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण कर रखी है उन शिक्षित बेरोजगार युवाओ को लाभ पहुंचाया जायेगा। इस योजना के लिये आवेदकों की आयु सीमा 21 वर्ष के लेकर 35 वर्ष के बीच निर्धारित की गई है।

बेरोजगारी भत्ता योजना- 2021 की पात्रता
आवेदन राजस्थान राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
योजना के तहत केवल राजस्थान राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं और युवतियों को ही पात्र माना जायेगा।
आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 3 लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए।
आवेदक या आवेदिका की आयु 21 वर्ष से लेकर 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
बेरोजगारी भत्ता योजना- 2021 का लाभ कम से कम 12वीं पास की युवा की ले सकता है।
केन्द्रीय अथवा राज्य सरकार की अन्य भत्ता योजनाओ का लाभ ले चुका युवक इस योजना का लाभ नहीं ले सकता।

राजस्थान बेरोजगारी भत्ता योजना- 2021 के लिये जरुरी दस्तावेज
आवेदक या आवेदिका का आधार कार्ड/पहचान पत्र/निवास प्रमाण पत्र
आय प्रमाण पत्र/राजस्थान एसएसओ आईडी/ राजस्थान का भामाशाह प्रमाण पत्र/ मोबाइल नंबर/ पासपोर्ट साइज फोटो जरुरी है

Find Jobs? Join Our Whatsapp Group