Jobs Haryana

IAS SUCCESS STORY: बिना कोचिंग कड़ी मेहनत से की UPSCकी तैयारी,बन दिखाया IAS, पढिए POOJA की सफलता की कहानी

 | 
IAS

SUCCESS STORY: आपने UPSC की पढ़ाई कर रहे युवाओं की कहानियां तो बहुत सुनी होंगी। पर कोई मां बेटी को पढ़ाने, और मोटिवेट करने के लिए खुद भी UPSC की पढ़ाई कर ली। ये नहीं सुना होगा। जी हाँ हम आपको ऐसी ही कहानी बताने वाले हैं। फिलहाल, मणिपुर के इम्फाल जिले में उप-विभागीय मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात पूजा जो कि भारत के उत्तर पूर्वी क्षेत्र में पली-बढ़ी हैं।

पूजा ने अपने IPS पिता को देख कर IAS बनने का सपना देखा। उन्होंने बिना कोचिंग का सहारा लिए सेल्फ स्टडी से परीक्षा क्रैक की। वर्ष 2018 में UPSC सिविल सेवा की टॉप रैंक होल्डर बनीं। इसका पूरा श्रेय वो अपनी मां को देती हैं। हालांकि UPSC तैयारी के लिए पूजा दिल्ली भी गई थीं। लेकिन डेंगू होने से वह वापस घर लौट आईं। इसके बाद पूजा घर से ही तैयारी करने का मन बनाया। पूजा ने बिना कोचिंग का सहारा लिए उन्होंने UPSC सिविल सेवा 2018 में 81वीं रैंक हासिल की।


पूजा कहती हैं की UPSC सिविल सेवा एक कठिन परीक्षा है। इसलिए उम्मीदवारों को इस कारण का पता लगाने की आवश्यकता होगी कि वे परीक्षा में क्यों आना चाहते हैं। जब वे खुद को कन्फ्यूज़न में पाएं तो अपने इस उद्देश्य को याद करें। इससे उन्हें तैयारी में मोटिवेशन मिलेगी और असफल होने पर निराशा भी महसूस नहीं होगी। उनका मानना है की परिवार और सहकर्मी के दबाव के कारण परीक्षा देना सही नहीं होगा। जरूरी है की आप खुद परीक्षा के लिए मानसिक रूप से तैयार हों।

पूजा बताती हैं जब मैंने तैयारी शुरू की तो परीक्षा के पैटर्न को समझने में काफी समय दिया। बिना कोचिंग के यह पता लगाने की जरूरत थी कि सभी अपने दम पर कैसे पढ़ाई करें। वह कहती है, मैं मदद मांगने से कभी नहीं डरती थी। मैं कुछ अन्य लोग जो UPSC परीक्षा की तैयारी कर रहे थे मैं उनसे बात करके अपने संदेह को दूर करती थी।

पूजा का मानना है की सबका अपना पढ़ने का ढंग अलग होता है। इसीलिए अपना टाइम टेबल अपने अनुसार हीं बनाये किसी और के शेड्यूल को कॉपी न करें। उनका कहना है की ये जरूरी नहीं कि आप एक दिन में कितने घंटे पढ़ रहें है बल्कि आप एक दिन में कितना सिलेबस पढ़ रहें हैं ये जरूरी है। इसी के साथ हीं वह मॉक टेस्ट सोल्व करने पर जोर देती हैं। वह कहती हैं की आप ज्यादा से ज्यादा मॉक टेस्ट दे। जब भी कोई विषय पूरा हो आप मॉक टेस्ट जरूर दें।

पूजा UPSC की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को सलाह देती हैं की जरूरी नहीं आपको इस परीक्षा में सफलता मिलेगी हीं। इसलिए इस परीक्षा की तैयारी एक सीख के तौर पर करें। सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस काफी विस्तारित है और यह जरूरी नहीं की आप सब याद रख सकें। इसलिए रिवीजन करते रहे किन्तु कुछ भूल जाने पर परेशान ना हों। यह परीक्षा केवल मेहनत और लगन से ही पास की जा सकती है। इसलिए अपना उद्देश्य हमेशा याद रखें और निरन्तर मेहनत करते रहें।
 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like