Jobs haryana news
IAS Success Story- चपरासी की नौकरी देने से कर दिया था इंकार, अब हैं हरियाणा में IAS अफसर
 
IAS success story

IAS Maniram Success Story- कहते हैं कि कभी भी किसी इंसान का वक्त एक जैसा नहीं रहता, कभी वह ऊपर जाता है तो कभी वापस नीचे आता है। इसलिए हमें कभी भी किसी का मजाक नहीं उड़ाना चाहिए और उसे कम नहीं आंकना चाहिए।

आज हम आपको हरियाणा के एक ऐसे युवक कहानी बताएंगे, जिससे कभी चपरासी की नौकरी केवल इसलिए नहीं दी गई क्योंकि उसे कम सुनाई देता था। जिस वजह से उसे चपरासी की नौकरी देने की बजाय दुत्कार कर भगा दिया गया था।

maniram sharma 29 december

मेवात और पलवल में है डीसी 
मगर इस व्यक्ति ने अपनी मेहनत और काबिलियत से खुद को बुलंदी पर पहुंचाया और आईएएस अफसर बनकर दिखाया। यह कहानी हरियाणा के मेवात या पलवल जिले के डीसी रहे मनीराम शर्मा की है।

मनीराम मूल रूप से राजस्थान के अलवर में छोटे से गांव के रहने वाले हैं। उनके पिता मजदूरी कर किसी तरह से अपने परिवार का गुजारा कर रहे थे और मां दृष्टिहीन थी। वह ख़ुद बहरेपन के शिकार थे। उनके गांव में कोई भी स्कूल नहीं था। जिस वजह से उन्हें पढ़ने के लिए 5 किलोमीटर दूर पैदल चलकर जाना पड़ता था।

उन्होंने 12th तक शिक्षा  इसी स्कूल से हासिल की। पढ़ाई में अव्वल होने की वजह से मनीराम ने दसवीं और 12 वी में टॉप किया। मनीराम के पिता अपने बेटे की नौकरी के लिए BDO के पास गए और उनसे मनीराम को चपरासी की नौकरी देने के लिए कहा, परन्तु अधिकारी ने मनीराम के बहरा होने का हवाला देते हुए नौकरी देने से साफ मना कर दिया।

maniram sharma 33

जब पिता ने मनीराम को अपने दुख का कारण बताया, तों बेटे ने कहा कि आप दुखी मत हो, मैं और ज्यादा पढूगा और एक दिन बड़ा अफसर बनकर दिखाऊंगा। उसके बाद वह आगे की पढ़ाई के लिए अलवर आ गए।

पीएचडी करने के बाद मनीराम ने यूपीएससी करने की ठानी। इससे पहले उन्होंने राजस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन की परीक्षा पास की जिसके बाद उन्हें क्लर्क की नौकरी मिल गई, फिर उन्होंने विश्वविद्यालय में परीक्षा में टॉप किया और नेट की परीक्षा को पास करते हुए लेक्चरर बन गया।

उन्होंने 2005, 2006,  2009 में यूपीएससी की परीक्षा  पास की, परंतु हर बार बहरा होने की वजह से उनका सिलेक्शन नहीं हो पाया। इसके बाद उन्होंने अपने कान का ऑपरेशन करवाया जिसमें ₹800000 का खर्च आया, इसके बाद 2009 में उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा दी और वह पास हो गए और उन्हें आईएएस के रैंक हासिल हुई।

सरकारी योजनाओं की जानकारी यहाँ देखे 

हरियाणा निगम रेट नौकरियों की जानकारी यहाँ देखे 

success story, inspirational success stories, ias ips success story, success story in hindi, motivational story in hindi for success, real life inspirational stories of success, inspiring stories of success after failure, unbelievable success stories, stories of successful people, haryana kaushal rojgar nigam registration, haryana kaushal rojgar nigam official website, haryana kaushal rojgar nigam limited, haryana kaushal rojgar nigam apply online, haryana kaushal rojgar nigam limited registration, haryana kaushal rojgar nigam registration link, haryana kaushal rojgar nigam registration login, haryana kaushal rojgar nigam registration 2021, failure to success stories, life success stories, successful business woman story, inspirational business success stories, IAS IPS success story, IAS IPS officers biography in hindi,  stories of successful people, unbelievable success stories