Jobs haryana news
IAS Simi karan success story: बिना कोचिंग पहले प्रयास में UPSC की परीक्षा पास कर बनी IAS,पढिए SIMI KARAN की सफलता की कहानी
 
IAS

Success Story​ of Simi Karan​: दृढ़ प्रतिज्ञ मनुष्य संसार को अपनी इच्छा के अनुसार झुका लेता है. अपनी मजबूत इच्छा शक्ति और दृढ़ प्रतिज्ञा से महज 22 वर्ष की सिमी करन (Simi Karan) ने अपने सपनों को पंख देते हुए. यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा में सफलता प्राप्त की. सिमी ओडिशा की रहने वाली हैं और उन्होंने इंजीनियरिंग बैकग्राउंड से पढ़ाई की है. उन्होंने मात्र 22 साल की उम्र में यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा (UPSC Civil Service Exam) में सफलता प्राप्त की है.

ias

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की सिविल सर्विस परीक्षा (CSE) में प्रत्येक वर्ष लाखों परीक्षार्थी शामिल होते हैं. इस परीक्षा में शामिल होने की उम्र 21 साल है. इस परीक्षा में शामिल होने वाले ज्यादातर लोगों की उम्र 26 से 28 वर्ष के बीच होती है. आईआईटी बॉम्बे (IIT Bombay) से पढ़ाई करने वाली सिमी करन अपने पहले ही प्रयास में सफल हुई हैं. अब वह सिविल सर्विस परीक्षा पास कर आईएएस अधिकारी (IAS Officer) बन गईं. इंजीनियरिंग के दौरान इंटर्नशिप के समय वह स्लम एरिया में बच्चों को पढ़ाने गई थी. तब से ही उनके मन में लोगों की मदद का ख्याल आया और उन्होंने सिविल सर्विस परीक्षा देकर आईएएस बनने की ठान ली थी.

ऐसे की तैयारी
मूल रूप से ओडिशा (Orissa) की रहने वाली सिमी करन का बचपन छत्तीसगढ़ के भिलाई में बीता. उनकी मां शिक्षिका थी, जबकि पिता भिलाई के स्टील प्लांट में काम किया करते थे. लिहाजा उनकी स्कूली शिक्षा भिलाई में हुई. वर्ष 2019 में यूपीएससी में ऑल इंडिया में रैंक 31 के साथ अपना मुकाम हासिल करने वाली सिमी ने आईएएस बनने के लिए टॉपर्स का इंटरव्यू देखा. उन्होंने इंटरनेट पर यूपीएससी के सिलेबस को अच्छी तरह से पढ़ा. उस सिलेबस (Syllabus) के अनुसार ही उन्होंने अपनी किताबों को एकत्र किया और उन्हीं से अपनी तैयारी शुरू की.

सिमी ने अपने सिलेबस को छोटे-छोटे हिस्सों में बांट लिया ताकि वह अच्छे से पढ़ाई कर सके. सिलेबस पूरा करने के बाद उन्होंने उसका लगातार रिवीजन भी किया. अभ्यर्थी जो आईएएस की तैयारी कर रहे हैं उनसे सिमी कहती है कि हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि किताबें सीमित रखकर बार-बार रिवीजन करें. उनका कहना है कि एग्जाम की तैयारी के लिए ज्यादा से ज्यादा रिविजन जरूरी है.
बिना कोचिंग पहले प्रयास में  UPSC की परीक्षा पास कर बनी IAS,