Jobs haryana news
IAS SUCCESS STORY: रणनीति की बदौलत पहले ही प्रयास में दिव्यांशु बने IAS अफसर, पढ़िए Divyanshu Singal की सफलता की कहानी
 
ias

IAS SUCCESS STORY:  UPSC में अगर आप बेहतर रणनीति के साथ तैयारी करते हैं, तो आपकी सफलता की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। आसान भाषा में कहें तो हर परीक्षा में सफलता के लिए बेहतर रणनीति की जरूरत होती है। आज आपको आईएएस अफसर दिव्यांशु सिंगल (IAS Divyanshu Singal) की कहानी बताएंगे, जिन्होंने पहले प्रयास में ही यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सिविल सेवा का सपना पूरा कर लिया। आपको बताएंगे कि आखिर किस तरह दिव्यांशु ने यूपीएससी के लिए रणनीति बनाई।

पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान शुरू की तैयारी:

दिव्यांशु ने पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान ही यूपीएससी की तैयारी के लिए कोचिंग ज्वाइन कर ली। हालांकि उन्होंने इस दौरान दौरान परीक्षा नहीं दी। उनका मानना है कि जब तक आप पूरी तरह तैयारी ना कर लें, तब तक आपको अपने अटेम्प्ट बर्बाद नहीं करने चाहिए। उन्हें कोचिंग से गाइडेंस मिली और उन्होंने अपनी क्षमताओं के अनुसार शेड्यूल बनाया और तैयारी में जुट गए।

Divyanshu joined coaching for UPSC preparation during his post graduation. However, he did not take the exam during this period. They believe that unless you prepare thoroughly, you should not waste your attempts. He got guidance from coaching and made the schedule according to his abilities and started preparing.

सोच समझकर चुना ऑप्शनल सब्जेक्ट:

दिव्यांशु ने अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई मैथमेटिक्स से की थी। ऐसे में उन्होंने यूपीएससी में ऑप्शनल सब्जेक्ट के तौर पर मैथ को ही चुना। वे कहते हैं कि आपको अपना पसंदीदा सब्जेक्ट ऑप्शनल के तौर पर चुनना चाहिए, ताकि आपको उसके बारे में अच्छी नॉलेज हो और आगे भी उसे पढ़ने में दिलचस्पी बनी रहे। कई लोग जल्दबाजी में ऑप्शनल चुन लेते हैं और इससे बाद में उन्हें परेशानी होती है।

Divyanshu did his post graduation in mathematics. In such a situation, he chose Maths as an optional subject in UPSC. They say that you should choose your favorite subject as an optional, so that you have a good knowledge about it and remain interested in studying it further. Many people choose the option in a hurry and this causes problems for them later.

अन्य लोगों को दिव्यांशु की सलाह:

दिव्यांशु कहते हैं कि आप यूपीएससी की तैयारी करने से पहले सिलेबस को अच्छी तरह देख लें। आप इंटरनेट पर जाकर टॉपर्स के इंटरव्यू देख सकते हैं और उसके अनुसार अपनी रणनीति तैयार कर सकते हैं। इसके अलावा जहां भी आपको लगे कि रणनीति में बदलाव करना है, वहां बदलाव कर लीजिए। आप सीमित किताबों के साथ यूपीएससी की तैयारी करें और उन्हीं किताबों को बेस्ट मानें। दूसरों को कहने पर तैयारी का तरीका ना बदलें। अगर आप पूरे समर्पण और ईमानदारी के साथ कड़ी मेहनत करेंगे, तो आपको यूपीएससी में सफलता जरूर मिलेगी।

Divyanshu says that you should go through the syllabus thoroughly before preparing for UPSC. You can go to the internet and watch the interviews of the toppers and prepare your strategy accordingly. Apart from this, wherever you feel that there is a need to change the strategy, make changes there. Prepare for UPSC with limited number of books and consider those books as the best. Don't change the way of preparation by telling others. If you will work hard with full dedication and sincerity, then you will definitely get success in UPSC.