Jobs haryana news
हिंदी मीडियम को ताकत बनाकर विकास ने ऐसे तय किया पहले प्रयास मे आईपीएस और दुसरे प्रयास में आईएएस अफसर बनने का सफर
 
vikas mina

यूपीएससी की तैयारी करने वाले अधिकतर कैंडिडेट्स को लगता है कि अगर वह अंग्रेजी माध्यम के जरिए तैयारी करेंगे तो इस परीक्षा में जल्दी सफलता मिलेगी। हालांकि राजस्थान के विकास मीणा की कहानी बिल्कुल अलग है।

वह एक छोटे से गांव से निकलकर यूपीएससी की तैयारी के लिए दिल्ली पहुंचे और हिंदी मीडियम को ताकत बना कर पहले प्रयास में आईपीएस अफसर बनने में सफल रहे। उनका सपना आईएएस बनने का था ऐसे में उन्होंने एक बार और कोशिश की।

इस बार भी उनकी रणनीति काफी कारगर रही और उन्हें सफलता मिल गई। साल 2017 में उन्होंने अच्छी रैंक के साथ यूपीएससी परीक्षा पास की और आईएएस बनने का सपना पूरा किया।

विकास का जन्म राजस्थान के गांव में हुआ था और उनकी शुरुआती पढ़ाई भी यहीं से हुई। इसके बाद उनके परिवार वालों ने उन्हें यूपीएससी की तैयारी के लिए दिल्ली भेज दिया। विकास और उनके भाई दिल्ली आकर यूपीएससी की तैयारी में जुट गए। विकास हिंदी मीडियम से पढ़े हुए थे और इसी को उन्होंने अपनी ताकत बनाया। 

उन्होंने एक सटीक रणनीति बनाकर यूपीएससी की परीक्षा दी और पहली बार में उन्हें सफलता मिल गई। रैंक के अनुसार उन्हें आईपीएस सेवा के लिए चुना गया। हालांकि उन्हें आईएएस अफसर बनना था ऐसे में दूसरी बार कोशिश की और इसमें उन्हें कामयाबी मिल गई।

विकास के मुताबिक जब भी दिल्ली यूपीएससी की तैयारी के लिए आए थे तो वह हिंदी मीडियम को लेकर काफी डरे हुए थे। वे कहते हैं कि वह एक ऐसा दौर था जब हिंदी मीडियम वाले बहुत कम बच्चे यूपीएससी में सफल हो पाते थे। 

हालांकि उन्होंने अपने डर को दूर करते हुए हिंदी माध्यम के जरिए ही इस परीक्षा को पास करने की ठान ली। एक सटीक रणनीति अपनाकर उन्होंने हिंदी मीडियम के दम पर सफलता हासिल कर ली।

दूसरे कैंडिडेट्स को विकास की सलाह
विकास कहते हैं कि अधिकतर कैंडिडेट परीक्षा के दौरान घबरा जाते हैं और इससे उनके प्रदर्शन पर काफी असर पड़ता है। ऐसे में परीक्षा वाले दिन अपनी तैयारी करके जाएं और वहां जाकर बिल्कुल ना घबराएं। 

उस दिन खुद को शांत रखें और बेहतर करने की कोशिश करें। साथ ही आप यूपीएससी की तैयारी करने के दौरान अपने बैकग्राउंड को लेकर बिल्कुल चिंतित ना हों। यहां आप जीरो से शुरू करके सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आपको सटीक रणनीति और लगातार मेहनत करनी होगी।