यूपीएससी परीक्षा में दो बार असफलताओं के बाद हुए निराश, परिवार के हौसले और हिम्मत से राघव जैन को मिली कामयाबी

Jobs Haryana, Success Story Of IAS Topper Raghav Jain

यूपीएससी की परीक्षा को क्रैक कर पाना कितना मुशकिल है ये तो यूपीएससी की तैयारी कर रहे युवाओं को अच्छे से पता है। आईपीएस, एआईएस बनने का बहुत से युवाओं का सपना होता है। लेकिन बहुत ही कम युवाओं का ये सपना पूरा हो पाता है। यूपीएससी में सफलता प्राप्त करने के लिए धैर्य के साथ मेहनत काफी जरूरी होती है। यहां जो लोग असफलताओं का डटकर मुकाबला करते हैं, वे अपना सपना पूरा कर लेते हैं। आज आपको यूपीएससी परीक्षा 2019 में ऑल इंडिया रैंक 127 हासिल करने वाले राघव जैन की कहानी बताएंगे, जिन्हें यह सफलता अपने तीसरे प्रयास में मिली। दो बार लगातार असफलता मिलने के बाद राघव ने यूपीएससी का सफर खत्म करने का मन बनाया था, लेकिन परिवार और दोस्तों के सपोर्ट की बदौलत उन्होंने तीसरा प्रयास किया और सफलता मिल गई।


राघव जैन मूल रूप से पंजाब के लुधियाना के रहने वाले हैं। इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने बीकॉम की डिग्री हासिल की। उसके बाद उन्होंने एमबीए में दाखिला ले लिया। एमबीए के दौरान ही उन्होंने यूपीएससी में आने का मन बनाया। एमबीए के बाद वे यूपीएससी की तैयारी के लिए दिल्ली आ गए। यहां उन्होंने करीब 6 महीने तक यूपीएससी के बारे में पूरी जानकारी इकट्ठी की और फिर वापस लुधियाना चले गए। उन्होंने अपनी तैयारी लुधियाना में रहकर करने का प्लान बनाया।

राघव ने साल 2017 में पहली बार यूपीएससी सिविल सर्विस की परीक्षा दी। इसमें उन्होंने प्री-परीक्षा तो पास कर ली, लेकिन मेंस में अटक गए। ऐसे में उन्होंने दूसरा प्रयास किया, लेकिन इस बार वे प्री-परीक्षा में ही फेल हो गए। इससे राघव काफी निराश हुए और उन्होंने इस सफर को खत्म करने का फैसला किया। हालांकि परिवार और दोस्तों ने उनसे एक और प्रयास करने के लिए कहा। उन्होंने कड़ी मेहनत कर तीसरा प्रयास किया और परीक्षा पास कर अपना सपना पूरा कर लिया।


अन्य कैंडिडेट्स को राघव की सलाह
राघव का मानना है कि यूपीएससी में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको हर विषय की गहराई से तैयारी करनी पड़ेगी। आप स्मार्ट स्टडी के जरिए अपने सिलेबस को कम समय में बेहतर तरीके से कवर कर सकते हैं। सिलेबस कंप्लीट होने के बाद आप ज्यादा से ज्यादा रिवीजन करें और आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करें। अगर आप इन सब बातों का ध्यान रखेंगे, तो आप यूपीएससी की परीक्षा पास कर सकते हैं।

यूपीएससी परीक्षा में दो बार असफलताओं के बाद हुए निराश, परिवार के हौसले और हिम्मत से राघव जैन को मिली कामयाबी

Scroll to Top