Uncategorized आर्मी जॉब्स ऑल इंडिया जॉब्स टीचिंग जॉब्स प्राइवेट जॉब्स बैंकिंग जॉब्स सरकारी नौकरियां हरियाणा जॉब्स

बॉर्डर के गांव की बेटी भारतीय सेना में बनीं लेफ्टिनेंट, सुबेदार पिता सहित परिवार में 6 फौजी

Jobs Haryana,

भारत-पाकिस्तान की सीमा पर स्थित बाड़मेर जिले के राऊजी की ढाणी काऊ खेड़ा कवास निवासी प्यारी चौधरी का भारतीय सेना में मेडिकल विभाग से लेफ्टिनेंट के पद पर चयन हुआ है। प्यारी ने सेना में ऑफिसर बन कर बाड़मेर जिले का नाम रोशन किया है, इसके बाद सोशल मीडिया हर तरफ बेटी की प्रशंसा हो रही है। प्यारी के पिता किस्तुराराम चौधरी थल सेना में वर्तमान में सूबेदार के पद पर 47 आर्म्ड रेजिमेंट में तैनात है।

Advertisement

 

प्यारी चौधरी अपने परिवार से इंडियन आर्मी ज्वाइन करने वाली प्यारी छठी सदस्य हैं। प्यारी चौधरी के पिता किस्तूरा राम चौधरी व माता कमला देवी ने बयां कि बेटी की कामयाबी की पूरी कहानी और इनका दावा है कि भारतीय सेना की मेडिकल कोर में लेफ्टिनेंट पद पर चुनी जाने वाली प्यारी चौधरी बाड़मेर जिले की पहली बेटी है। किस्तूरा राम चौधरी ने बताया कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है। प्यारी के एक छोटा भाई गौरख भी है। माता-पिता ने दोनों में कभी कोई फर्क नहीं समझा। दोनों को अच्छी तालीम दिलाई। नतीजा यह रहा कि दस नवंबर 2020 को प्यारी चौधरी को भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट पद पर कमीशन मिला है।

Advertisement

पूरे चौधरी परिवार के प्यारी की नियुक्ति दिवाली का सबसे यादगार तोहफा है। प्यारी के परिवार में 6 फौजी बता दें कि राऊजी की ढाणी काउखेड़ा के भानाराम व अणची देवी का यह परिवार फौजियों वाला है। इनके तीन बेटे हैं। तीनों ही फौजी हैं। साथ ही प्यारी समेत तीनों की एक-एक संतान भी फौजी बन गई। ऐसे में इनके परिवार में कुल छह फौजी हैं। बाड़मेर में इनके परिवार को फौजियों वाला परिवार कहते हैं।

परिवार के ये सदस्य हैं फौजी

Advertisement
  1. जोधाराम, कैप्टन (ताऊ)
  2. कलाराम, हलवदार (ताऊ)
  3. हीराराम पुत्र जोधाराम, नायक
  4. जसवंत सिंह पुत्र कलाराम, नायक
  5. किस्तुरा राम, सुबेदार (पिता)
  6. प्यारी देवी पुत्री किस्तुरा राम (लेफ्टिनेंट)

किस्तुरा राम के अनुसार बेटी प्यारी का जन्म 31 दिसम्बर 1997 को बाड़मेर में हुआ, मगर पिता की भारतीय सेना में विभिन्न जगहों पर पोस्टिंग होने के कारण प्यारी की पढ़ाई सैनिक स्कूल व केन्द्रीय विद्यालयों से हुई है। प्यारी ने प्रारंभिक शिक्षा पटियाला के आर्मी नर्सरी स्कूल से प्राप्त की। इसके बाद केंद्रीय विद्यालयों में पिता की नौकरी के साथ अलग-अलग जगह रह कर पड़ी। बीएससी नर्सिंग महाराष्ट्र यूनिवर्सिटी मुंबई पास की। इसके बाद सेना में कमीशन प्राप्त करने के लिए ऑल इंडिया लेवल पर लिखित परीक्षा मेरिट प्राप्त कर इंटरव्यू व मेडिकल टेस्ट पास किए।

अब ऑल इंडिया मैरिट के आधार पर प्यारी चौधरी को सेना के मेडिकल विभाग में ऑफिसर रैंक में लेफ्टिनेंट के पद पर नियुक्ति मिली है। फिलहाल वे मुम्बई ही हैं। दस नवंबर को उनको भारतीय सेना में ​कमिशन प्राप्त होने की खबर मिलते ही पूरे बाड़मेर में दिवाली की खुशियां दोगुनी हो गई। जल्द ही प्यारी को पोस्टिंग भी मिलने वाली है।

Advertisement

बाड़मेर की बेटी प्यारी चौधरी की कामयाबी पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। मोदी सरकार में केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री व बाड़मेर सांसद कैलाश चौधरी ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट शेयर करते हुए लिखा है कि ‘संसदीय क्षेत्र बाड़मेर के गांव काहू खेडा (कवास) निवासी प्यारी चौधरी पुत्री श्री किस्तुराराम जी लेघा का चयन भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट पद पर होने की बहुत-बहुत बधाई। हमें हमारी होनहार बेटी पर बहुत गर्व है कि उसने सेना में जाने का वीरतापूर्ण निर्णय लिया और उसके लिए कड़ी मेहनत करके सफलता हासिल की।’

Advertisement

Related posts

हरियाणा रोडवेज वर्कशॉप में प्रशिक्षुओं के लिए आवेदन आमंत्रित, देखें पूरी जानकारी

Jobs Haryana

हाईकोर्ट में हो रही हैं नियुक्तियां, स्नातकों के लिए नौकरी पाने का मौका

Admin

SSB JOBS 2020: सशस्त्र सीमा बल में कांस्टेबल के पदों पर निकले आवेदन, जल्दी करें अप्लाई

Jobs Haryana

Leave a Comment