Jobs haryana news
Teacher Requirement: जल्द होने जा रही है अध्यापक के 37000 पदों पर भर्ती, देखिए पूरी जानकारी
Jobs haryana, Teacher बिहार में Teacher बनने का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। पटना हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड को एसटीईटी का परिणाम जारी करने के आदेश दिए हैं। जिससे प्रदेश में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों में लगभग 37 हजार से अधिक नियुक्तियों का रास्ता साफ हो गया है। यह भी पढें-
 
Teacher Requirement: जल्द होने जा रही है अध्यापक के 37000 पदों पर भर्ती, देखिए पूरी जानकारी
Jobs haryana, Teacher

बिहार में Teacher बनने का इंतजार कर रहे युवाओं के लिए अच्छी खबर है। पटना हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड को एसटीईटी का परिणाम जारी करने के आदेश दिए हैं।

जिससे प्रदेश में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों में लगभग 37 हजार से अधिक नियुक्तियों का रास्ता साफ हो गया है।

यह भी पढें-  10वीं और ITI पास के लिए सब स्टेशन अटेंडेंट के पदों पर निकली भर्ती, यहां से करें जल्द अप्लाई

Teacher

एसटीईटी का परिणाम घोषित होने के बाद राज्य में शिक्षकों के नियोजन का शेडयूल जारी होगा। शिक्षकों की नियोजन प्रक्रिया जिलावार की जाएगी। इस दौरान मेरिट के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाई जाएगी।

प्रदेश में 37 हजार 335 शिक्षकों (Teachers) की नियुक्तियां होनी हैं। इसमें 25 हजार 270 पद माध्यमिक और 12 हजार 65 पद उच्चतर माध्यमिक शिक्षकों के लिए है।

हाईकोर्ट ने राज्य सरकार और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को एसटीईटी के लिए सिलेबस बनाने के निर्देश दिए हैं। हाईकोर्ट ने ऑनलाइन परीक्षा को सही ठहराया और ऑनलाइन एसटीईटी के परिणाम घोषित करने के आदेश दिए।

यह भी पढें- ग्रुप सी के 2410 पदों पर आवेदन करने के कुछ दिन शेष, यहां से करें फटाफट अप्लाई

माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 का नोटिफिकेशन सितंबर 2019 में जारी किया गया था, जिसकी ऑफलाइन परीक्षा 28 जनवरी 2020 को आयोजित की गई। परीक्षा के दौरान कई केंद्रों पर आउट ऑफ सिलेबस प्रश्न पूछे जाने पर विवाद की स्थिति बन गई।

जिसके बाद अभ्यर्थियों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर दी। इसी बीच अनियमितताएं मिलने पर परीक्षा ही रद्द कर दी गई,​ फिर बिहार बोर्ड ने सितंबर 2020 में ऑनलाइन परीक्षा ली। इस परीक्षा में भी आउट ऑफ सिलेबस का आरोप लगाते हुए कुछ अभ्यर्थियों ने कोर्ट की शरण ली, जिसके बाद कोर्ट ने 26 नवंबर 2020 को रिजल्ट जारी करने पर रोक लगा दी।

यह भी पढें-  भारतीय वन सेवा परीक्षा के लिए आवेदन शुऱू, यहां से करें जल्द अप्लाई

अब फिर इस मामले की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने ऑनलाइन परीक्षा को सही करार दिया और रिजल्ट जारी करने का आदेश दिया है।