Jobs haryana news
केवल Aadhar दिखाकर आसानी से पाएं गैस कनेक्शन और सब्सिडी का लाभ, यहां जानिए सरल शब्दों में
 
lpg

अगर आप अपने एलपीजी गैस कनेक्शन पर सब्सिडी का लाभ लेना चाहते हैं, तो इसे तुरंत आधार कार्ड से लिंक करवा लें। इंडियन आयल गैस कंपनी इंडेन ने इस नई सुविधा के बारे में कहा है कि कोई भी व्यक्ति आधार दिखाकर नया एलपीजी कनेक्शन ले सकता है। उन्हें शुरुआत में बिना सब्सिडी वाला कनेक्शन दिया जाएगा।

इसके अतिरिक्त ग्राहक बाद में एड्रेस प्रूफ जमा कर सकता है और यह प्रूफ जमा करते ही सिलेंडर पर सब्सिडी का लाभ भी मिल जाएगा। यानी जो कनेक्शन आधार और एड्रेस प्रूफ के साथ लिया जाएगा, वह सरकारी सब्सिडी के तहत आएगा। अगर कोई ग्राहक जल्द ही कनेक्शन लेना चाहता है और उसके पास एड्रेस प्रूफ नहीं है तो वह आधार नंबर के जरिए तुरंत इस सुविधा का हकदार होगा।

अपने एलपीजी गैस कनेक्शन को आधार कार्ड से जोड़ने के लिए आपको किसी कार्यालय जाने की जरूरत नहीं है बल्कि आप इसे घर बैठे आराम से ऑनलाइन भी कर सकते हैं। इतना ही नहीं, अगर आप इसे ऑफलाइन लिंक करना चाहते हैं, तो आप IVRS और SMS के जरिए अपने आधार को एलपीजी कनेक्शन से लिंक कर सकते हैं।

आधार कार्ड पर बिना सब्सिडी के एलपीजी कनेक्शन कैसे प्राप्त करें 

  1. नजदीकी गैस एजेंसी पर जाएं और एलपीजी कनेक्शन फॉर्म भरें और इसमें आधार का विवरण दें। 
  2. फॉर्म में अपने घर के पते के बारे में बताना होगा कि आप ऐसी जगह रहते हैं और घर में ऐसी और ऐसी चीज है।
  3. इसके साथ ही आपको तुरंत एलपीजी कनेक्शन दिया जाएगा। हालांकि इस कनेक्शन से आपको सरकारी सब्सिडी का लाभ नहीं मिलेगा और सिलेंडर का पूरा खर्चा देना होगा।
  4. बाद में जब एड्रेस प्रूफ बन जाता है या खुद का घर या रेंट एग्रीमेंट आदि हो जाता है, तो आप इसे गैस एजेंसी को जमा कर सकते हैं। इस सबूत की पुष्टि हो जाएगी, इसलिए गैस एजेंसी इसे आपके कनेक्शन में एक वैध दस्तावेज के रूप में दर्ज करेगी। इससे आपका गैर-सब्सिडी वाला कनेक्शन सब्सिडी कनेक्शन में बदल जाएगा।

पहचान पत्र दिखा पाएं कमर्शियल सिलिंडर 
आधार कार्ड से कनेक्शन लेने की यह योजना सभी प्रकार के सिलेंडर पर लागू है। हालांकि इसमें कमर्शियल सिलेंडर को शामिल नहीं किया गया है। यह योजना 14।2 किलो, 5 किलो के सिंगल, डबल या मिश्रित सिलेंडर कनेक्शन के लिए लागू है।

यही नियम एफटीएल या फ्री ट्रेड एलपीजी सिलेंडर पर भी लागू होता है। FTS सिलेंडर को शॉर्ट सिलेंडर भी कहा जाता है जिसे दुकानों से भी खरीदा जा सकता है। इसे गैस एजेंसियों या पेट्रोल पंप से भी खरीदा जा सकता है। इसके लिए किसी दस्तावेज की जरूरत नहीं है। इस छोटे से सिलेंडर को कोई भी पहचान पत्र दिखाकर ही खरीदा जा सकता है।

समग्र सिलेंडर के लाभ 
इस सिलेंडर का निर्माण तीन स्तरों में किया गया है। पहला, अंदर से उच्च घनत्व पॉलीथीन से बना है। यह भीतरी परत बहुलक से बने फाइबरग्लास से लेपित होती है। सबसे बाहरी परत भी एचडीपीई से बनी है। यह सिलेंडर कुछ हद तक पारदर्शी होता है, जिससे रोशनी में देखा जा सकता है कि इसमें कितनी गैस बची है।

कम्पोजिट सिलेंडर में जंग नहीं लगता और न ही सिलेंडर को कोई नुकसान होता है। जंग और खरोंच न होने के कारण सिलेंडर अधिक सुरक्षित हो जाता है। यह लोहे के सिलेंडर की तुलना में बहुत हल्का होता है।