Jobs haryana news
बैंकिंग फ्रॉड को लेकर बड़ा कदम, खाते से पैसे चोरी होने पर बैंक तुरंत लेगा एक्शन, पढिये क्या हैं RBI की नई निति
 
if money is stolen from the account

ऑनलाइन गतिविधियां बढ़ने के साथ ही फ्रॉड के मामलों में भी लगातार इजाफा हुआ है। साइबर ठग लोगों को ठगने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते, बस एक छोटी सी चूक और आपकी पूरी मेहनत की कमाई चुरा ली जाती है। इसलिए लोगों को लगातार सावधान रहने की हिदायत भी जाती है, क्योंकि अकसर देखा जाता है कि, खाते से पैसे चोरी होने की स्थिति में लोगों को समझ नहीं आता क्या करें। 

साथ ही बैंकों के चक्कर लगाने पड़ते हैं, तो भी समय रहते काम नहीं हो पाता। लेकिन अब आपको बैकों के चक्कर काटने के लिए मजबूर नहीं होना पड़ेगा क्योंकि अब आप डायरेक्ट सेंट्रलाइज्ड पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

बैंकिंग फ्रॉड की स्थिति में पुलिस कंप्लेंट से लेकर बैंक को मामले की जानकारी देने तक की पूरी प्रक्रिया काफी लंबी है। और इसी लंबे प्रोसेस के बाद भी कबतक मामले में कार्रवाई होगी, यह बात क्लियर नहीं हो पाती थी। 

इसलिए इन सभी परेशानियों को लेकर सरकार एक सेंट्रलाइज्ड पोर्टल बनाने की तैयारी में है और इस ऑनलाइन पोर्टल पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) और सरकार अभी काम भी कर रही है।


बैंकिंग फ्रॉड को लेकर बड़ा कदम

  • – सेंट्रलाइज्ड पोर्टल बनाने की तैयारी
  • – बैंकिंग फ्रॉड के दौरान ग्राहक पोर्टल पर कर सकेंगे शिकायत
  • – फ्रॉड की जानकारी पहले बैंक को देनी होती है

दरअसल बैंकिंग फ्रॉड की स्थिति में सबसे पहले बैंक को इसकी जानकारी देनी होती है। लेकिन अगर 30 दिनों की अवधि तक बैंक की तरफ से आपकी शिकायत पर कोई कदम नहीं उठाया जाता है, तो आप इंटीग्रेटेड ओम्बड के पास जा सकते हैं। बता दें सरकार ने इंटीग्रेटेड ओम्बड स्कीम लॉन्च की है। इसी के तहत अब एक सेंट्रलाइज्ड सिस्टम बनाने की तैयारी है। जिसकी मदद से ऑनलाइन फ्रॉड के मामलों को लेकर ग्राहक सीधा यहां शिकायत कर सकेंगे।

क्या है इंटीग्रेटेड ओम्बड स्कीम

  • – इंटीग्रेटेड ओम्बड सिस्टम एरिया के हिसाब से बंटा हुआ था
  • – जिस एरिया में परेशानी हुई है, वहां का ओम्बड्स इसे देखता है ( उदाहरण- पंजाब में बैंकिंग फ्रॉड हुआ है, तो वहां का ओम्बड्स देखेगा)
  • – सरकार सेंट्रलाइज्ड सिस्टम लाने की तैयारी में है, इसके तहत इंटीग्रेटेड ओम्बड स्कीम बनाई गई है
  • – इसके तहत आप एक ईमेल, एक एड्रेस और पोर्टल के जरिए अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे

सोशल मीडिया से दे सकेंगे कंप्लेंट!
फिलहाल इन तीन तरीकों से ग्राहक अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है, लेकिन आरबीआई आने वाले समय में नई योजना लाने की तैयारी में है। जिसके तहत सोशल मीडिया के माध्यम से भी ग्राहक अपनी कंप्लेंट दे सकेंगे। बता दें, पहले आपको नियमित संस्थाओं के पास ही शिकायत देनी होगी, लेकिन अगर 30 दिनों के अंदर आपकी शिकायत पर कोई कदम नहीं उठाया जाता या आपको उस कार्रवाई से संतुष्टि नहीं मिलती, तो आप इस पोर्टल पर लॉगिन कर, ईमेल भेज सकते हैं।

इसके अलावा कॉल सेंटर की योजना भी बनाई जा रही है, जिसपर ग्राहक कॉल कर अपनी परेशानी उन्हें बता सकते हैं। बता दें, यह कॉल सेंटर हफ्ते में 5 दिनों के लिए 9।30 बजे से 5।30 बजे तक शुरुआत में काम करेगा। लेकिन आरबीआई की स्कीम है कि आने वाले समय में पूरे 7 दिन इसे चलाया जाए। ताकि ग्राहक आसानी से अपनी शिकायत दर्ज करा सकें।