चौथी पास पिता ने बेटे-बेटियों को बनाया IAS-IPS समेत बड़े अफसर, घर के 11 सदस्य हैं अधिकारी

Chopal Tv, Jind

कुछ सालों पहले लोग पढ़ाई को इतना महत्व नहीं देते थे। हरियाणा में ज्यादातर लोग खेतीबाड़ी से जुड़े होते थे। जो लोग पढ़ाई करना चाहते थे उनको परिवार की जिम्मेदारियों की वजह से अपनी पढ़ाई बीच में छोड़नी पड़ती थी।

लेकिन हर मां-बाप चाहता है कि जो सपने उनके पूरे नहीं हुई वह सपने उनके बच्चे पूरा करें। ऐसा ही एक सपना देखा हरियाणा के जींद जिले में रहने वाले चौधरी बसंत सिंह श्योंकद ने। और आज चौधरी बसंत सिंह के परिवार में IAS और IPS के साथ-साथ 11 क्लास वन के पद पर नियुक्त है।

चौधरी बसंत सिंह श्योंकद हरियाणा के जींद जिले के गाँव डूमरखां कलां के रहने वाले हैं। हैरानी की बाद ये है जिस इंसान ने 11 लोगों को अफसर बनाने के लिए जी तोड़ मेहनत की वो खुद सिर्फ़ चौथी पास थे।

चौधरी बसंत सिंह श्योंकद का 99 वर्ष की उम्र में निधन हो गया, लेकिन उन्होंने अपने परिवार के लिए इतना कुछ कर दिया कि युगो-युगो तक उन्हें याद किया जाएगा। बताया जाता है कि बसंत सिंह के बड़े बेटे हैं रामकुमार श्योकंद जो कॉलेज के रिटायर्ड प्रोफेसर हैं, ओर उनका बेटा यशेंद्र IAS ऑफिसर है।

यही नहीं उनकी बेटी स्मिति चौधरी अंबाला में रेलवे एसपी के पद पर तैनात हैं। बसंत सिंह के दूसरे बेटे कॉन्फेड में जीएम थे और उनकी पत्नी डिप्टी डीइओ रह चुकी हैं और इस तरह उनका पूरा परिवार किसी न किसी अधिकारी के पद पर काम कर रहे हैं, जो बसंत सिंह के साथ-साथ पूरे समाज और देश के लिए गर्व की बात है।

बसंत सिंह की बड़ी बेटी बिमला के बेटे अनिल ढुल बीबीएमबी में SE विजिलेंस, जबकि दूसरी बेटी कृष्णा जो प्रिंसिपल रह चुकी हैं, उनके पति रघुबीर पंघाल भारतीय सेना में मेजर रह चुके हैं। इनकी बेटी दया पंघाल ETO है।

बसंत सिंह की तीसरी बेटी कौशल्या के पति रणधीर सिंह SE पब्लिक हेल्थ के तौर पर सेवा दे चुके हैं। इनकी बेटी ऋतु चौधरी और पति अनुराग शर्मा दोनों IRS हैं। इस तरह से चौधरी बसंत सिंह के परिवार को सरकारी नौकरियों की खान कहना गलत नहीं होगा।

Find Jobs? Join Our Whatsapp Group