जुड़वां बच्चों के लिए केंद्रीय विद्यालय में दाखिले को लेकर आया ये नया नियम, जानिए

Jobs Haryana, KV Admissions 2021

एक अप्रैल से केंद्रीय विद्यालयों में एडमिशन की प्रक्रिया शुरू हो रही है और सबसे बड़ी खुशखबरी इसमें जुड़वां बच्चियों के लिए है। केंद्रीय विद्यालय ने जुड़वां बच्चियों को एक साथ एडमिशन देने का ऐलान किया है। दो जुड़वां बच्चों को एडमिशन में एक गिना जाएगा।

केंद्रीय विद्यालय प्रशासन ने नए शैक्षणिक सत्र के लिए एडमिशन दिशा-निर्देश जारी किए हैं। केंद्रीय विद्यालयों में पहली से पांचवीं कक्षा में इकलौती लड़कियों को एडमिशन में प्राथमिकता दी जाती है। हर सेक्शन में दो सीटें इकलौती लड़कियों के लिए आरक्षित रखी गई हैं।

केंद्रीय विद्यालय संगठन ने इस बार दिशा-निर्देश में साफ किया है कि यदि जुड़वां लड़कियां होंगी तो उन्हें एक ही गिना जाएगा। जब एडमिशन के लिए ड्रा किया जाएगा तब जुड़वां लड़कियों की एक पर्ची डाली जाएगी तथा उस पर दोनों बच्चियों के नाम लिखे जाएंगे। इस प्रकार यदि एक सेक्शन में दो जुड़वां बच्चियों का एडमिशन होगा तो एक सीट भरी हुई मानी जाएगी।

देश में 1225 केंद्रीय विद्यालय हैं
केंद्रीय विद्यालय की आयुक्त निधि पांडे ने कहा कि प्रवेश प्रक्रिया में कुछ बिन्दुओं पर स्पष्टता की गई है। जुड़वां बच्चियों के मामले में भी स्पष्ट किया गया है कि उन्हें एक ही माना जाएगा। बता दें कि देश में 1225 केंद्रीय विद्यालय हैं। एक केंद्रीय विद्यालय में पहली कक्षा में आमतौर पर तीन सेक्शन होते हैं। इस प्रकार छह इकलौती लड़कियों के लिए पहली कक्षा में आरक्षित श्रेणी में प्रवेश के अवसर होते हैं।

जुड़वां बच्चियों को लेकर भ्रम में रहते हैं  अभिभावक
दरअसल, यह देखा गया है कि जुड़वां बच्चियां होने पर अभिभावकों में यह भ्रम हो जाता है कि वह इकलौती लड़की की श्रेणी में आवेदन करें या नहीं। अक्सर ऐसे अभिभावक आवेदन ही नहीं कर पाते थे। लेकिन केंद्रीय विद्यालय ने स्पष्ट कर दिया है कि जुड़वां बच्चियों का मतलब इकलौती लड़की ही माना जाएगा।

सांसदों कोटे का ऑनलाइन आवेदन
केंद्रीय विद्यालयों में अब सांसदों को अपने कोटे की सीटों के लिए अब ऑनलाइन आवेदन करना होगा। पहले इसके लिए उन्हें अलग से कूपन दिए जाते थे। लेकिन कोरोना संकट के चलते यह प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी गई है। पिछले साल भी यह प्रक्रिया ऑनलाइन की गई थी लेकिन अब इसे ऑनलाइन ही रखने का फैसला किया गया है। सांसदों को केंद्रीय विद्यालयों में दस सीटों का कोटा होता है।

Find Jobs? Join Our Whatsapp Group