Jobs Haryana

फ्लाइट में घुसते ही कर दिए जाएंगे बाहर! भूल कर भी साथ ना ले जाना Apple का ये डिवाइस

BAN Apple Device: क्या आप जानते हैं कि फ्लाइट में उड़ान भरते समय कुछ डिवाइस खतरनाक साबित हो सकते हैं, ऐसे में इन डिवाइसेज को फ्लाइट में बैन रखा गया है. इन्हीं में से एक डिवाइस Apple का है जिसे फ्लाइट में ले जाना BAN है. 
 | 
फ्लाइट में घुसते ही कर दिए जाएंगे बाहर! भूल कर भी साथ ना ले जाना Apple का ये डिवाइस

Apple Device on Flight: अगर आप फ्लाइट में सफर करते हैं तो चेक इन करने से पहले आपके सामान की जांच की जाती है और आपके लगेज या आपकी पॉकेट में से कोई ऐसा डिवाइस पाया जाता है जो हवाई सफर के दौरान खतरनाक साबित हो सकता है तो उसे तुरंत ही रखवा लिया जाता है. दरअसल कुछ डिवाइस फ्लाइट की उड़ान में दिक्कत पैदा कर देते हैं. इन डिवाइसेज को फ्लाइट में ले जाना BAN है. अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको फ्लाइट से उतार दिया जाता है. Apple कंपनी का ही एक डिवाइस है जो फ्लाइट में BAN है और इसे फ्लाइट में ले जाने पर आपके खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है. 

कौन सा है Apple का ये डिवाइस 

Apple का जो डिवाइस फ्लाइट में BAN है वो असल में कोई आईफोन या लैपटॉप नहीं है बल्कि ये एक छोटा सा एयर टैग है जो शायद एप्पल के सबसे सस्ते डिवाइसेज में से एक है. दरअसल जर्मनी आधारित लुफ्थांसा एयरलाइंस ने एप्पल एयरटैग को लगेज में लगाने पर BAN कर दिया है. डिवाइस ट्रैकिंग को 'खतरनाक' करार देते हुए, एयरलाइन अपने यात्रियों को अपनी उड़ान पर एक सक्रिय एयरटैग ले जाने से मना कर रही है. अगर आप फ्लाइट में इस डिवाइस को ले जाने के बारे में सोचते हैं तो चेकिंग के दौरान ही स्टाफ इसे एयरपोर्ट पर रखवा लेता है. हालांकि ऐसा सिर्फ चुनिंदा फ्लाइट कंपनियों ने ही किया है. दरअसल कंपनी एप्पल एयर टैग को खतरनाक मानती है. 

क्या है वजह 

दरअसल कंपनी के ऐसा करने के पीछे वजह ये है कि एयर टैग्स फ्लाइट के सिग्नल और नेविगेशन सिस्टम को प्रभावित कर सकते हैं. इसकी वजह से फ्लाइट अपना रास्ता भटक सकती है. ऐसी स्थिति पैदा ना हो इस बात का ध्यान रखते हुए ही कंपनी ने ये फैसला लिया है और एयर टैग को फ्लाइट में लाने से बैन किया हुआ है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like