Jobs Haryana

Weather Updates: दिल्ली-NCR में बारिश, जानें आपके राज्य में कैसा रहेगा मौसम; IMD ने जारी किया अलर्ट

Weather News: अगले दो दिन में दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon) के वापस लौटने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी, इससे पहले दिल्ली-एनसीआर (Delhi Weather Update) समेत कई राज्यों में बारिश (Heavy Rainfall) हो रही है. तो चलिए आपको बताते हैं कि आज आपके राज्य का मौसम (Aaj Ka Mausam) कैसा रहेगा. 

 | 
Weather Updates: दिल्ली-NCR में बारिश, जानें आपके राज्य में कैसा रहेगा मौसम; IMD ने जारी किया अलर्ट

Weather Forecast Today Updates: भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को कहा कि अगले दो दिन में दक्षिण-पश्चिम मानसून (Monsoon) के वापस लौटने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. इससे पहले दिल्ली-एनसीआर समेत कई राज्यों में लगातार बारिश हो रही है. इसके साथ ही मौसम विभाग (IMD) ने उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों में 20 सितंबर को भारी बारिश (Heavy Rainfall) का अलर्ट जारी किया है और बताया है कि अगले तीन से चार दिनों तक उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में जोरदार बारिश हो सकती है. 

IMD ने इन राज्यों में बारिश को लेकर जारी किया अलर्ट 

मौसम विभाग (IMD) का कहना है कि ओडिशा के तटीय इलाकों और उत्तरी आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में 20 और 21 सितंबर को बारिश की संभावना है. आईएमडी ने विदर्भ, छत्तीसगढ़ और पूर्वी मध्य प्रदेश में 20, 21 और 22 सितंबर को भारी बारिश की आशंका जताई है. इसके अलावा मौसम विभाग ने आने वाले तीन दिनों में जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, मिजोरम, मेघालय, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है.  इन राज्यों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है, जहां अगले 24 घंटे में बारिश हो सकती है. 

दिल्ली-NCR में बारिश के बाद तापमान में गिरावट 

दिल्ली-एनसीआर में आज (20 सितंबर) सुबह से ही हल्की-हल्की बारिश हो रही है, जिसके बाद तापमान में गिरावट दर्ज की गई है. दिल्ली का तापमान 25 डिग्री पहुंच गया है, जो कल सुबह 29 डिग्री के आसपास था. वहीं, उत्तराखंड में भी तापमान में गिरावट आई है और आज यहां तापमान 20 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है. 

समय से पहले ठंड आने की संभावना 

मानसून (Monsoon) के वापस लौटने की प्रक्रिया अगले दो दिन में शुरू हो जाएगी, इससे पहले कई राज्यों में हो रही बारिश ने मौसम को ठंडा कर दिया है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि मौसम की आखिरी बारिश (Rainfall) की वजह से ठंड जल्दी आने की संभावना है. बता दें कि उत्तराखंड के बद्रीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब में इस सीजन की पहली बर्फबारी (Snowfall in Uttarakhand) हुई है और पहाड़ों पर बारिश का दौर भी जारी है. बर्फबारी के बाद आसपास के राज्यों में समय से पहले ठंड आने के आसार जताए जा रहे हैं. 

नैनीताल में भारी बारिश ने बरपाया कहर 

उत्तराखंड के नैनीताल जिले में पिछले दो दिनों में हुई भारी बारिश के कारण हुई घटनाओं में दो व्यक्तियों की मृत्यु हो गई, जबकि तीन घर जमींदोज हो गए. पुलिस उपनिरीक्षक रमेश भूरा ने बताया कि हल्द्वानी के निकट बारिश से उफनाए एक नाले को पार करते समय पंकज थापा नाम का व्यक्ति डूब गया, जिसका शव 20 घंटे बाद सोमवार को मिला. इसके अलावा, नैनीताल में दीवान राम का एक नौका चालक रविवार को अपनी नाव में भरे पानी को निकालते समय झील में गिर गया और डूब गया. 

कम दबाव के क्षेत्र की वजह से ओडिशा में भारी बारिश 

बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती परिसंचरण के कम दबाव में तब्दील होने की वजह से सोमवार को ओडिशा के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश दर्ज की गई. भुवनेश्वर स्थित मौसम कार्यालय ने बताया कि उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर सुबह मौजूद मौसम प्रणाली अगले 24 घंटे में स्पष्ट निम्म दबाव में बदलकर ओडिशा के तट की ओर बढ़ने की संभावना है. मौसम कार्यालय ने बताया कि इसके प्रभाव से बुधवार तक पूरे राज्य में भारी बारिश और आंधी की संभावना है. 

ओडिशा में अगले 3 दिन में भारी बारिश की चेतावनी 

मौसम विभाग (IMD) ने कम दबाव क्षेत्र के चलते ओडिशा में अगले तीन दिन में भारी बारिश की चेतावनी दी है. कम दबाव का क्षेत्र शीघ्र निर्मित होने का अंदेशा है. एक बुलेटिन के कहा गया कि उत्तर तथा मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवात परिसंचरण शनिवार को निर्मित हुआ था और इसके प्रभाव से मंगलवार तक समुद्र के उत्तर पश्चिमी हिस्से पर कम दबाव का क्षेत्र निर्मित होगा. मौसम विभाग ने पुरी, कालाहांडी, कंधमाल और गंजाम में कुछ स्थानों पर सोमवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है. 

दो दिन में शुरू हो जाएगी मानसून के वापस लौटने की प्रक्रिया 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को कहा कि अगले दो दिन में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के वापस लौटने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. आईएमडी ने कहा, 'अगले दो दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम भारत और कच्छ के कुछ हिस्सों से दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं.' 

विभाग के अनुसार भारत में सात प्रतिशत अधिक बारिश हुई थी, लेकिन उत्तर प्रदेश और बिहार सहित आठ राज्यों में कम बारिश हुई, जिससे इस खरीफ मौसम में कृषि उत्पादन कम हो सकता है. झारखंड, दिल्ली, पंजाब, त्रिपुरा, मिजोरम और मणिपुर अन्य राज्य हैं, जहां कम वर्षा दर्ज की गई है. 

दक्षिण-पश्चिम मानसून का मौसम 1 जून से शुरू होता है और 30 सितंबर तक जारी रहता है. भारत में 1 जून से 19 सितंबर के बीच 872.7 मिमी बारिश हुई, जो इस अवधि में होने वाली 817.2 मिमी की सामान्य वर्षा से 7 प्रतिशत अधिक है. 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like