Jobs Haryana

Vehicle: कबाड़ में बदले जाएंगे अब ये वाहन, नितिन गडकरी ने कर दिया बड़ा ऐलान

Nitin Gadkari वार्षिक कृषि प्रदर्शनी 'एग्रो-विजन' के उद्घाटन में शामिल होने गए थे. उस मौके पर नितिन गडकरी ने कई बातें साझा की. साथ ही भविष्य में होने वाले कई उपायों के बारे में भी बातें साझा की. इसी दौरान नितिन गडकरी ने ज्यादा पुराने वाहनों को कबाड़ में बदले जाने के बारे में सूचित किया. 
 | 
कबाड़ में बदले जाएंगे अब ये वाहन, नितिन गडकरी ने कर दिया बड़ा ऐलान

Vehicle Details: भारत सरकार की ओर से अब एक बड़ा फैसला लिया गया है. सरकार कुछ वाहनों को अब कबाड़ में बदलने वाली है. इसका ऐलान भी केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) की ओर से किया जा चुका है. दरअसल, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि भारत सरकार के 15 साल से अधिक पुराने सभी वाहनों को कबाड़ में बदला जाएगा. वहीं गडकरी का कहना था कि इससे जुड़ी नीति भी राज्यों को भेजी गई है.

कबाड़ में बदले जाएंगे वाहन

नितिन गडकरी वार्षिक कृषि प्रदर्शनी 'एग्रो-विजन' के उद्घाटन में शामिल होने गए थे. उस मौके पर नितिन गडकरी ने कई बातें साझा की. साथ ही भविष्य में होने वाले कई उपायों के बारे में भी बातें साझा की. इसी दौरान नितिन गडकरी ने भारत सरकार के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों को कबाड़ में बदले जाने के बारे में सूचित किया.

फाइल पर हस्ताक्षर

नितिन गडकरी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में एक फाइल पर हस्ताक्षर किए गए हैं. इसके तहत भारत सरकार के सभी 15 साल से ज्यादा पुराने वाहनों को कबाड़ में बदला जाएगा. नितिन गडकरी ने इस मामले में कहा कि भारत सरकार की इस नीति के बारे में सभी राज्यों को भी जानकारी दे दी गई है. राज्यों के स्तर पर भी इस नीति को अपनाना चाहिए.

इंडियन ऑयल के दो संयंत्र

इसके साथ ही नितिन गडकरी ने इंडियन ऑयल के दो संयंत्र के बारे में भी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि पानीपत में इंडियन ऑयल के दो संयंत्र शुरू हो गए हैं, जिनमें से एक में हर रोज एक लाख लीटर एथनॉल का उत्पादन होगा. इसके अलावा दूसरे संयंत्र में चावल के भूसे का इस्तेमाल होगा और हर रोज 150 टन बायो-बिटुमेन का निर्माण होगा. नितिन गडकरी का कहना है कि इन संयंत्रों से पराली जलाने की समस्या में कमी आएगी. 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like