Jobs Haryana

नोएडा एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जोड़ेगा ये हाइवे, इन 20 गावों की बदलेगी तस्वीर

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे को जोड़ने के साथ-साथ ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और यमुना एक्सप्रेसवे को भी आपस में जोड़ेगा. इसके बाद इन एक्सप्रेसवे से आने वालों को शहर से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा. 

 | 
नोएडा एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जोड़ेगा ये हाइवे, इन 20 गावों की बदलेगी तस्वीर

नई दिल्ली: नोएडा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Noida International Airport) को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे (Delhi-Mumbai Expressway) से जोड़ने के लिए ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे बनाया जा रहा है. यह एक्सप्रेसवे बल्लभगढ़ से जेवर एयरपोर्ट तक बनाया जाएगा. इसको बनाने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने एप्को इंफ्राटेक (APCO infratech) कंपनी को जिम्मेदारी सौंपी है. यह एक्सप्रेसवे फरीदाबाद जिले और गौतमबुद्ध नगर जिले से होकर निकलेगा. इस एक्सप्रेसवे से गौतमबुद्ध नगर और फरीदाबाद के 20 गांवों की तकदीर बदल जाएगी. 

इस एक्सप्रेसवे को बनाने का कार्य अगले 2 साल तक हो जाएगा. यह एक्सप्रेसवे दिल्ली-फरीदाबाद डीएनडी फ्लाईवे से शुरू होकर यमुना एक्सप्रेसवे को पार करके नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट तक जाएगा. इसका निर्माण कार्य बहुत जल्द शुरू किया जाएगा. यह एक्सप्रेसवे 2 साल में जेवर एयरपोर्ट को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जोड़ देगा. इसके साथ ही 3 बड़े एक्सप्रेसवे भी आपस में जुड़ जाएंगे. इससे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे और यमुना एक्सप्रेसवे तीनों जुड़ जाएंगे. इससे कई राज्यों के बीच सुपरफास्ट कनेक्टिविटी बन जाएगी. हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई शहरों से जेवर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे तक पहुंचना बेहद आसान होगा. आपको बता दें कि दिल्ली-फरीदाबाद डीएनडी फ्लाईवे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का हिस्सा है. 

बता दिं कि यह एक्सप्रेसवे गौतमबुद्ध नगर अमरपुर, झुप्पा, दयानतपुर, बल्लभनगर, करौली बांगर, फलैदा बांगर से होकर निकलेगा. वहीं फरीदाबाद के पन्हेरा खुर्द, फफूंडा, बाहभलपुर, सोताई, चनावली, शाहूपुरा, फलैदा खादर, बाहपुर कलां, छांयसा, मोहियापुर, मोहना, हीरापुर, मेहमदपुर, नरहावाली आदि गांवों से होकर गुजरेगा. इस एक्सप्रेसवे से इन गावों की न केवल तस्वीर बल्कि तकदीर भी बदल जाएगी. 

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे 31.4 किलोमीटर लंबा और 6 लेन का होगा. इसको भविष्य 8 लेन तक बढ़ाया जा सकता है. इस एक्सप्रेसवे का कॉन्ट्रैक्ट एनएचएआई ने एप्को इंफ्राटेक को 1660.50 करोड़ रुपये में दिया है.  ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण अगले 2 साल में पूरा करना है. 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like