home page

Smartphone Tips: 11 मई से गूगल नहीं करने देगा थर्ड पार्टी ऐप को कॉल रिकॉर्डिंग, जानें इसके बाद आपके पास क्या होंगे विकल्प

अपने यूजर्स की सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए गूगल अपनी पॉलिसी में कई तरह के बदलाव करने जा रही है. ये बदलाव 11 मई से लागू होंगे. इसमें सबसे अहम है थर्ड-पार्टी ऐप से कॉल रिकॉर्डिंग को रोकना. 

 | 
Smartphone Tips: 11 मई से गूगल नहीं करने देगा थर्ड पार्टी ऐप को कॉल रिकॉर्डिंग, जानें इसके बाद आपके पास क्या होंगे विकल्प

How to Do Call Recording without App: अपने यूजर्स की सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए गूगल अपनी पॉलिसी में कई तरह के बदलाव करने जा रही है. ये बदलाव 11 मई से लागू होंगे. इसमें सबसे अहम है थर्ड-पार्टी ऐप से कॉल रिकॉर्डिंग को रोकना. यानी अब न तो आप किसी थर्ड पार्टी ऐप से कॉल रिकॉर्ड कर पाएंगे और न ही कोई ऐप अपनी मर्जी से आपकी कॉल को रिकॉर्ड कर पाएगा. यह फीचर एप्पल की तरह है. एप्पल अपने फोन में कॉल रिकॉर्डिंग की सुविधा नहीं देता है. अब ऐसे लोग जिनके लिए कॉल रिकॉर्डिंग जरूरी है, उनके मन में सवाल उठ रहा है कि आखिर अब वह कैसे कॉल रिकॉर्डिंग करेंगे. अगर आप भी इसी सवाल से परेशान हैं तो हम देंगे उसका जवाब. आइए जानते हैं आपके पास क्या-क्या विकल्प हैं. 

ये है सबसे आसान तरीका 

सबसे पहले तो इस बात को समझ लें कि अधिकतर एंड्रॉयड फोन में गूगल इनबिल्ट कॉल रिकॉर्डिंग की सुविधा देता है. ऐसे में आप थर्ड पार्टी ऐप पर निर्भर होना छोड़ दें. अब हम आपको बताएंगे इनबिल्ट कॉल रिकॉर्डिंग की सुविधा का कैसे लाभ उठाएं. 

  • सबसे पहले किसी भी नंबर को कॉल करें. 

  • अब मोबाइल के स्क्रीन पर ध्यान से देखें, आपको कॉलिंग रिकॉर्डिंग का आइकन दिखेगा. 

  • आपको उस आइकन पर क्लिक करना है, उस पर क्लिक करते ही कॉल रिकॉर्डिंग शुरू हो जाएगी. 

  • अगर आपको स्क्रीन पर कॉल रिकॉर्डिंग का ऑप्शन न दिखे, तो सेटिंग में जाएं. यहां कॉल सेटिंग में जाना होगा 

  • कॉल सेटिंग में आपको रिकॉर्डिंग का ऑप्शन दिखेगा, उसे ऑन कर दें. 

ये भी है विकल्प 

अगर आपके फोन में इनबिल्ट रिकॉर्डिंग की सुविधा नहीं है तो आपके पास एक विकल्प ये है कि आप कॉल मिलाकर फोन के स्पीकर को ऑन कर लें. इसके बाद दूसरे फोन में रिकॉर्डिंग ऑन कर दें. 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like