Jobs Haryana

Shraddha Murder Case: सबूत जुटाने में जुटी दिल्ली पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, हत्या में शामिल इस चीज को किया बरामद

दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है
 | 
Shraddha Murder Case: सबूत जुटाने में जुटी दिल्ली पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, हत्या में शामिल इस चीज को किया बरामद

दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पुलिस ने श्रद्धा के शव के टुकड़े करने वाले हथियार को बरामद कर लिया है. आफताब पूनावाला ने पुलिस को बताया कि श्रद्धा के शव के टुकड़े करने के लिए आरी समेत बड़े चाकू का इस्तेमाल किया था.

दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. दिल्ली पुलिस ने श्रद्धा के शव के टुकड़े करने वाले हथियार को बरामद कर लिया है. आरोपी आफताब पूनावाला ने पुलिस को बताया कि श्रद्धा के शव के टुकड़े करने के लिए आरी समेत बड़े चाकू का इस्तेमाल किया था.

पुलिस ने श्रद्धा के शव के टुकड़े करने वाले 5 बड़े चाकू जो घर में किचन चाकू से अलग हैं, जो बेहद शार्प हैं, जिनकी लंबाई करीब 5-6 इंच हैं. इन पांचों चाकुओं को बरामद कर लिया है. इन पांचों को जांच के लिए भेज दिया गया है. हालांकि पुलिस को अब तक दूसरा बड़ा हथियार आरी बरामद नहीं हो पाई है.

दिल्ली पुलिस की एक टीम ने गुरुवार को मुंबई के पास भायंदर नहर में मोबाइल फोन की तलाश की. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि मीरा-भायंदर-वसई-विरार पुलिस के कर्मियों ने तलाश में मदद की.

दिल्ली पुलिस की टीम एक सप्ताह से मुंबई के पास वसई इलाके में डेरा डाले हुए है, जहां श्रद्धा वालकर और उसका लिव-इन पार्टनर व हत्यारोपी आफताब पूनावाला रहता था. जांचकर्ताओं ने श्रद्धा वालकर और पूनावाला के दोस्तों, रिश्तेदारों और उनके द्वारा किराए पर लिए गए फ्लैटों के मालिकों के बयान भी दर्ज किए.

गौरतलब है कि पूनावाला ने अपनी लिव-इन पार्टनर वालकर (27) की मई में कथित तौर पर गला दबाकर हत्या कर दी थी तथा उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए थे. आफताब ने शव के टुकड़ों को करीब तीन सप्ताह तक दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने घर में 300 लीटर के फ्रिज में रखा था और कई दिनों तक उन्हें शहर के अलग-अलग हिस्सों में फेंका था.

आफताब और श्रद्धा की मुलाकात एक डेटिंग एप के जरिए हुई थी. इसके बाद उन्होंने मुंबई में एक कॉल सेंटर में साथ काम करना शुरू किया और दोनों के बीच वहीं से प्रेम संबंध शुरू हुए.

अलग-अलग धर्म से नाता रखने के कारण उनके माता-पिता को उनके रिश्ते से ऐतराज़ था इसीलिए ही वे दिल्ली आ गए थे. दोनों के बीच कथित तौर पर 18 मई को शादी को लेकर बहस हुई, जिसके बढ़ने पर पूनावाला ने श्रद्धा की हत्या कर दी और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like