Jobs Haryana

Rewari News: जिले में गहराया यूरिया के संकट, किसान परेशान; रामगढ़ में को-आपरेटिव सोसायटी के बाहर धरना

गांव रामगढ़ में यूरिया नहीं मिलने से परेशान किसान शुक्रवार को सुबह साढ़े बजे से ही को-आपरेटिव सोसायटी के बाहर धरने पर बैठ गए थे। कर्मचारियों ने किसानों समझाने का प्रयास किया लेकिन धरने पर बैठे किसानों ने यूरिया आने तक धरना जारी रखने की बात कही। 
 | 
जिले में गहराया यूरिया के संकट, किसान परेशान; रामगढ़ में को-आपरेटिव सोसायटी के बाहर धरना

रेवाड़ी। जिले में यूरिया को लेकर चल रहे संकट के बीच किसानों का गुस्सा लगातार बढ़ रहा है, क्योंकि सरसों व गेहूं की फसल में सिंचाई आरंभ हो चुकी है, लेकिन किसानों को पर्याप्त मात्रा में यूरिया नहीं मिल रहा है। शुक्रवार को गांव रामगढ़ भगवानपुर स्थित को-आपरेटिव सोसायटी के बाहर गुस्साए किसानों ने धरना आरंभ कर दिया है। धरना की सूचना मिलने के पश्चात को-आपरेटिव सोसायटी के कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए और किसानों समझाने का प्रयास किया, लेकिन धरने पर पहुंचे कर्मचारियों को किसानों ने खूब खरी खोटी सुनाई और यूरिया आने तक धरना जारी रखने की बात कही।

सुबह नौ बजे ही धरने पर बैठ गए थे किसान

गांव रामगढ़ में यूरिया नहीं मिलने से परेशान किसान शुक्रवार को सुबह साढ़े बजे से ही को-आपरेटिव सोसायटी के बाहर धरने पर बैठ गए थे। सोसायटी के बाहर किसानों के धरने पर बैठने की खबर जैसे ही कर्मचारियों के पास पहुंची, वह धरना स्थल पर दौड़े-दौड़े पहुंच गए। कर्मचारियों ने किसानों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन किसानों ने अधिकारियों की बात मानने से इन्कार कर दिया।

वहीं धरने पर बैठे किसानों ने पैक्स के कर्मचारियों पर यूरिया कालाबाजारी करने का आरोप लगाया है। वहीं कुछ समय पश्चात पुलिस टीम भी मौके पर पहुंच गई और किसानों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन अपनी जिद पर अड़े रहे।

किसानों ने कहा- यूरिया के बिना फसलें होंगी प्रभावित

किसानों ने कहा कि सरसों व गेहूं की फसल में सिंचाई आरंभ हो चुकी है, लेकिन किसानों को सरकारी केंद्रों पर पर्याप्त मात्रा में यूरिया नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने कहा कि फसलों में छिड़काव की जरूरत अब है, अगर यूरिया नहीं मिला तो फसलें प्रभावित हो जाएंगी। जिले भर में सरकारी बिक्री केंद्रों पर यूरिया का स्टाक खत्म चल रहा है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like