Jobs Haryana

मेरी कहानी: चाची की लड़की से हो गया प्यार, भाई-बहन के रिश्ते में आई दरार

 | 
MERI KAHANI

मेरी कहानी: मुझे अपनी चाची की लड़की से प्यार हो गया, जोकि मेरी मौसी की भाभी की बेटी है। हमारे परिवार से उनके अच्छे संबंध है, जिसकी वजह से उसके साथ भी मेरा रिश्ता अच्छा है।

हालांकि, वह लड़की नहीं जानती कि मैं उसके लिए भावनाएं रखता हूं। वह मुझे चेचरा भाई ही मानती है।मेरे परिवार के साथ भी ऐसा ही है। वह हम दोनों को भाई-बहन की नजर से ही देखते हैं।

मेरे साथ ऐसा नहीं है। मैं न केवल उस लड़की से बहुत प्यार करता हूं, बल्कि उसके साथ अपना बाकी का जीवन भी बिताना चाहता हूं। हालांकि, सच तो यह है कि पारिवरिक रिश्तों की वजह से मैंने उस लड़की से अपने दिल की बात नहीं कही है।

वह नहीं जानती कि मैं उसको अपनी प्रेमिका की तरह देखता हूं। लेकिन अब मुझे समझ नहीं आ रहा कि मुझे क्या करना चाहिए? ऐसा इसलिए क्योंकि इस एक वजह से मैं अपने काम पर भी मन नहीं लगा पा रहा। 

डॉक्टर की सलाह

फोर्टिस हेल्थकेयर में मानसिक स्वास्थ्य और व्यवहार विज्ञान विभाग की प्रमुख कामना छिब्बर कहती हैं कि मैं समझ सकती हूं कि जिस स्थिति में आप हैं, वह आपको कितना परेशान कर रही होगी।

प्रेम संबंधी भावनाएं नियंत्रित करना बहुत कठिन है। दिल के मामले में किसी का भी जोर नहीं चलता है। आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है।

आपको न केवल अपनी चाची की लड़की से प्यार है बल्कि आपको इस बात का भी डर लग रहा है कि कहीं इसके बारे में आपके परिवार को पता चल गया, तो वह कैसे रिएक्ट करेंगे।

ऐसे में मैं आपको यही सलाह दूंगी कि आप सबसे पहले इस बात पर गौर करें कि आपके परिवार को यह रिश्ता कितना स्वीकार्य है।

क्या वह भी आपको पसंद करती है?

जैसा कि आपने बताया कि आपने अभी तक उस लड़की को अपनी फीलिंग्स के बारे में बताया नहीं है। ऐसे में सबसे पहले तो आप यह जानने की कोशिश करें कि वह लड़की आपको पसंद करती भी है या नहीं।

अगर वह भी आपके लिए प्रेम संबंधी भावनाएं रखती है, तो आप दोनों एक बार अपने परिवार से बात कर सकते हैं।हां, अगर आपको लगता है कि आपकी भावनाओं को समझा नहीं जाएगा,

तो इस रिश्ते को छोड़ देना ही बेहतर है। वहीं इस बात को भी जानने की कोशिश करें कि इस बात के सामने आने पर दोनों परिवारों में कैसा प्रभाव पड़ेगा। कहीं ऐसा न हो कि आपकी वजह से दोनों परिवारों में बातचीत खराब हो जाए।

दिल छोटा करके काम नहीं चलेगा

आपकी बातों को सुनकर मुझे ऐसा समझ आ रहा है कि आपकी फीलिंग्स पूरी तरह एक तरफा हैं। ऐसे में सबसे पहले मैं आपको यही सलाह दूंगीं कि आप सबसे पहले उस लड़की से बात करें।

उनके मन का हाल जाने और उसके बाद कोई फैसला लें। वहीं अगर वह इस रिश्ते के लिए मना करती हैं, तो उन पर किसी भी तरह का कोई दवाब न डालें।

ऐसे में उनसे दूर रहना ही उचित होगा। हां, इस दौरान एक बात का ध्यान रखें कि इस एक वजह से अपने काम को प्रभावित न होने दें।ऐसा इसलिए क्योंकि इस समस्या से बाहर आने में आपको थोड़ा समय लग सकता है,

जहां खुद को परेशान करके आपको कुछ नहीं मिलने वाला है। अपने आप पर भरोसा रखें, हिम्मत न हारें। हो सकता है कि जीवन के अगले ही मोड़ पर आपको कोई ऐसा साथी मिलें,

जिसके साथ न केवल आप बहुत खुश रहें बल्कि उसे अपनाने में आपके परिवार को भी कोई परेशानी नहीं होगी।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like