Jobs Haryana

IAS Ashok Khemka: हरियाणा का ये आईएएस अधिकारी झेल चुका है 56 तबादलों का दर्द, अब फिर चर्चा में आया, जानिए वजह

 अपने तीस साल के करियर में 56 तबादले झेल चुके हरियाणा के मशहूर ब्यूरोक्रेट अशोक खेमका एक बार फिर चर्चा में हैं। इस बार चर्चा किसी तबादले की नहीं बल्कि उस चिट्ठी की है जो उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को लिखी है। इस लेख में आप अशोक खेमका की इस चिट्ठी के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे।

 | 
IAS Ashok Khemka: हरियाणा का ये आईएएस अधिकारी झेल चुका है 56 तबादलों का दर्द, अब फिर चर्चा में आया, जानिए वजह

Haryana IAS Ashok Khemka: अपने तीस साल के करियर में 56 तबादले झेल चुके हरियाणा के मशहूर ब्यूरोक्रेट अशोक खेमका एक बार फिर चर्चा में हैं। इस बार चर्चा किसी तबादले की नहीं बल्कि उस चिट्ठी की है जो उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को लिखी है। इस लेख में आप अशोक खेमका की इस चिट्ठी के बारे में विस्तार से पढ़ेंगे।

अपनी इस चिट्ठी में अशोक खेमका ने हरियाणा सरकार के एक विभाग में भ्रष्टाचार का जिक्र किया है साथ ही इसी विभाग में अपने लिए नियुक्ति की मांग की है। अशोक खेमका ने सीएम खट्टर को चिट्ठी लिखकर सतर्कता विभाग में एक कार्यकाल देने की मांग की है। उन्होंने अपनी इस नियुक्ति के दौरान सतर्कता विभाग में फैले भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की पेशकश भी की है.                      
खेमका ने चिट्ठी में क्या लिखा ?

अपनी चिट्ठी में उन्होंने लिखा कि उन्होंने भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए अपने करियर का त्याग कर दिया, खेमका लगातार तबादलों के कारण चर्चा में रहते हैं। तीन दशक के करियर में वो 56 तबादले झेल चुके हैं। इस समय खेमका अभिलेखागार विभाग में तैनात हैं।

खेमका ने कहा कि उनकी वर्तमान पोस्टिंग में पर्याप्त काम नहीं है, लेकिन कुछ अधिकारियों पर कई प्रभार और विभागों का बोझ है. 23 जनवरी को लिखे गए इस पत्र में खेमका ने कहा है कि काम का एकतरफा बंटवारा जनहित में नहीं हो सकता है।

उन्होंने ये भी लिखा कि जब मैं भ्रष्टाचार देखता हूं, तो ये मेरी आत्मा को पीड़ा देता है। कैंसर को जड़ से खत्म करने के उत्साह में मैंने अपने करियर का त्याग कर दिया। उन्होंने कहा कि वो भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में हमेशा सबसे आगे रहे हैं और भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए सतर्कता सरकार का मुख्य अंग है।

15 दिन पहले ही हुआ है तबादला 

9 जनवरी 2023 को हरियाणा सरकार ने खेमका का तबादला किया था। करीब 31 साल के करियर में ये उनकी 56 वीं पोस्टिंग है। खेमका को विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव से अभिलेखागार विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था।


ऐसे सुर्खियों में आए थे खेमका

1991 बैच के हरियाणा कैडर के IAS अधिकारी खेमका 2012 में सुर्खियों में आए, जब उन्होंने कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े गुरुग्राम के एक जमीन सौदे के म्यूटेशन को रद्द कर दिया था। 

अपने तीन दशक के करियर के दौरान खेमका ने एक ईमानदार अधिकारी के रूप में प्रतिष्ठा बनाई है, उनके अब तक 50 से ज्यादा तबादले हो चुके हैं। अपने तबादलों की वजह से वो हमेशा सुर्खियों का हिस्सा बनते रहे हैं।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like