Jobs Haryana

Haryana Elevated Road: हरियाणा के इस शहर में बनेगा 8.5 किलोमीटर लंबा एलेवेटिड रोड, देखें कहां-कहां से होकर गुजरेगा ?

हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला हिसार को बैक-टू-बैक नए साल के दो और बड़े प्रोजेक्ट्स के तोहफे देने जा रहे हैं। इन दोनों प्रोजेक्ट्स पर करीब 80 करोड़ रुपये खर्च होंगे।
 | 
Haryana Elevated Road: हरियाणा के इस शहर में बनेगा 8.5 किलोमीटर लंबा एलेवेटिड रोड, देखें कहां-कहां से होकर गुजरेगा ?

Haryana Elevated Road: हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला हिसार को बैक-टू-बैक नए साल के दो और बड़े प्रोजेक्ट्स के तोहफे देने जा रहे हैं। इन दोनों प्रोजेक्ट्स पर करीब 80 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

अभी कुछ दिन पहले ही जहाँ तलवंडी राणा से मिर्जापुर रोड़ का बाईपास मंजूर करवाया था, वहीं हिसार शहर के लिए PWD (B&R) विभाग का एक फाईव-स्टार आलीशान रैस्ट हाउस और विभाग का छह मंजिला ऑफिस भी मंजूर करवाने में सफल हुए हैं। 

यह विभागीय ऑफिस चंडीगढ़ के निर्माण सदन की तर्ज पर अत्याधुनिक सुविधा से लैस होगा। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला इससे पहले, पिछले साल हिसार शहर के लिए लगभग 723 करोड़ की लागत से बनने वाले एलिवेटेड रोड़ बनाने के प्रोसेस को भी मंजूर करवा चुके हैं, जो कि लोगों को शहर के जाम से मुक्ति दिलाने में अहम साबित होगा। 

शहर के बीचों-बीच दिल्ली-हिसार-सिरसा (Delhi-Hisar-Sirsa) रोड़ पर लोक निर्माण विभाग द्वारा करीब 8.5 किलोमीटर लंबा एलिवेटिड रोड बनाया जाएगा। यह रोड़ सिरसा चुंगी से लेकर जिंदल फैक्ट्री के पास फ्लाईओवर तक बनेगा। रास्ते में आने वाले सेक्टर-14, बस स्टैंड, नागोरी गेट, पुलिस लाइन एरिया, अर्बन एस्टेट, डाबड़ा चौक, मॉडल टाउन, सेक्टर 9-11 क्षेत्र में लोगों को वाहनों के जाम से निजात मिलेगी। इस एलिवेटिड रोड की डीपीआर तैयार हो चुकी है।

डिप्टी सीएम ने इस साल के शुरुआत में हिसार के गांव तलवंडी राणा से मिर्जापुर रोड तक फोरलेन बाईपास को मंजूर किया था और 153 करोड़ रुपये जारी भी किये जा चुके हैं। जिन किसानों की जमीन इस बाईपास के लिए अधिग्रहित की गई है, उनको इस जमीन की राशि मिलने का रास्ता खुल गया है। 

उप-मुख्यमंत्री द्वारा हिसार शहर को विकसित करने और सौंदर्यीकरण करने की दिशा में करवाए जा रहे प्रयासों को उस समय पंख लग गए जब उन्होंने नए साल 2023 के आगमन पर हिसार शहर में एक फाइव-स्टार आलीशान रैस्ट हाऊस और विभाग के छह मंजिला ऑफिस की भी प्रशासनिक मंजूरी तुरंत दिलवा दी। इनमें रैस्ट हाउस पर 60 करोड़ और निर्माण सदन पर 19 करोड़ रूपये से अधिक खर्च होंगे। उप-मुख्यमंत्री ने जल्द से जल्द निर्माण करने के निर्देश दिए हैं। 

पांच मंजिला यह नया रैस्ट हाऊस वर्तमान रैस्ट हाऊस की 7.47 एकड़ भूमि में से 2.09 एकड़ में बनाया जाना प्रस्तावित है। इस रैस्ट हॉऊस में कुल करीब 4 दर्जन कमरे बनाए जाएंगे। इसमें जहां सीएम स्यूट, वीआईपी स्यूट के अलावा ऑफिसर्स-रूम होंगे वहीं दुकानें बनाने का भी प्रावधान किया जाएगा। इस रैस्ट हाऊस में खरीदारी के लिए यहाँ आधुनिक चीजों वाली दुकानें होंगी। 

यही नहीं रैस्ट हाउस में रुकने वाले मेहमान अपने स्वास्थ्य को फिट करने के लिए जिम एंड योगा का भी अभ्यास कर सकेंगे। लगभग 300 आदमियों की क्षमता के एक मल्टीपर्पज-हॉल को भी बनाया जाएगा, जिसमें कार्यक्रमों के आयोजन में सुविधा होगी। इस भवन में आधुनिक सुविधाओं से युक्त 100 व्यक्तियों की क्षमता वाला कॉन्फ्रेंस-रूम भी होगा जहां मीटिंग भी हो सकेंगी। 

महिलाओं, पुरुषों और दिव्यांगों के लिए अलग-अलग टॉयलेट बनाए जाएंगे। वीआईपी और सामान्य जन के लिए लिफ्ट भी लगाई जाएंगी। उप-मुख्यमंत्री ने हिसार शहर में पीडब्ल्यूडी (बीएंडआर) विभाग का एक खूबसूरत विभागीय ऑफिस बनाने के लिए प्रशासनिक स्वीकृति दिलवा दी है। छह मंजिला यह भवन चंडीगढ़ के निर्माण सदन की तर्ज पर अत्याधुनिक सुविधाओं  से लैस होगा। 

यह भवन पीडब्ल्यूडी (बी एंड आर) विभाग के पुराने ऑफिस के स्थान पर निर्मित किया जायेगा, जिसमे 70 कमरे बनाए जायेंगे। भवन पर करीब 19 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है। इसमें विभाग की सिविल, मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल, हॉर्टिकल्चर, इंजीनियरिंग विंग के अलग-अलग ब्लॉक बनाए जायेंगे।  यही नहीं जेई से लेकर एसडीओ, एक्सईएन और एसई एवं आला अधिकारियों के बैठने के लिए अलग-अलग कार्यालय होंगे।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like