Jobs Haryana

गैंगस्टर नीरज पूनिया के फाइव स्टार फार्म हाउस पर चला बुलडोजर, जानिए क्या है पूरा मामला

 | 
गैंगस्टर नीरज पूनिया के फाइव स्टार फार्म हाउस पर चला बुलडोजर, जानिए क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के बाद हरियाणा सरकार ने भी अपराधियों की संपत्ति पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया है। बुधवार को निगमायुक्त के आदेश पर करनाल में जिला नगर योजनाकार आरएस बाठ ने अपनी टीम के साथ गैंगस्टर नीरज पूनिया के कुंजपुरा रोड पर बुड्ढा खेड़ा स्थित अनधिकृत रूप से बनाए गए फाइव स्टार फार्म हाउस पर पीला पंजा चलाया।

इस दौरान पार्टी हाल, कमरे, रसोई, शौचालय व स्वीमिंग पूल आदि करोड़ों रुपये के निर्माण को ध्वस्त कर दिया गया। इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात रहा। बुलडोजर चलाने से पहले पुलिस ने फार्म हाउस को खाली करवाया।

निगमायुक्त अजय सिंह तोमर ने बताया कि फार्म हाउस को अवैध तरीके से बनाया गया था। डीटीपी के निर्देश पर फार्म हाउस की दीवारों को तोड़ दिया। पहले दीवारों को गिराया गया। इसके बाद एक के बाद एक कमरों को तोड़ा गया। जो टीन शेड बनाए गए थे उनको भी पूरी तरह से तोड़ दिया गया। इसके लिए डीटीपी आरएस बाठ को ड्यूटी मजिस्ट्रेट बनाया गया था। फार्म हाउस में रह रहे लोगों ने विरोध करने का प्रयास किया लेकिन कार्रवाई को जारी रखा गया।

फूसगढ़ हत्याकांड का मुख्य आरोपी है नीरज पूनिया
सीआईए दो इंचार्ज मोहन लाल ने बताया कि यह फार्म हाउस नीरज पूनिया का है। यहां पर असामाजिक तत्व एकत्रित होते हैं और गलत गतिविधियां अंजाम देते हैं। इसे लेकर स्थानीय लोगों ने सेक्टर 32-33 थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। क्षेत्र से लगातार शिकायतें मिल रही थीं। जिसका संज्ञान लेकर कार्रवाई की गई। नीरज पूनिया, फूसगढ़ गोलीकांड का मुख्य आरोपी है। इसके खिलाफ करनाल, कुरुक्षेत्र, रेवाड़ी, हिसार आदि जिलों में कुल 13 आपराधिक मामले दर्ज हैं। करनाल जिले के सदर थाने में 18 दिसंबर 2014 को हत्या का मामला दर्ज किया गया था। आरोपी नीरज पूनिया जेल में है। उसे पुलिस ने आठ साल पहले जयपुर से गिरफ्तार किया था। अब वह कुरुक्षेत्र जेल में है। उस पर दो सगे भाइयों अमित व नीरज की हत्या का आरोप है।

फार्म हाउस में पार्टी हाल, कमरे, रसोई, शौचालय तथा स्वीमिंग पूल बनाया गया था, जिसमें देर रात तक कुछ असामाजिक तत्वों की ओर से शराब पीना, नाच-गाना जैसी गतिविधियां होने से आसपास के नागरिकों को परेशानी होती थी। लोगों ने नगर निगम को शिकायतें दी थी। जिस पर अनधिकृत निर्माण को गिराने की योजना बनाई।

अवैध रूप से बनाए गए फार्म हाउस में एक बड़ा पार्टी हाल, करीब तीन कमरे, रसोई, शौचालय सहित स्वीमिंग पूल को ध्वस्त किया गया। फार्म हाउस का करीब 1500 वर्ग गज में अनाधिकृत रूप से निर्माण किया गया था। अवैध निर्माण को लेकर स्थानीय नागरिकों की भी शिकायतें आ रही थी। इसे लेकर नगर निगम की ओर से फार्म हाउस को सात दिन का नोटिस दिया गया। नोटिस की अनुपालन न करने पर तोड़फोड़ की गई है।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like