Jobs Haryana

Free UPSC Coaching: मिलेगी फ्री UPSC और PCS की कोचिंग, इस दिन होगा Exam, जल्द करें अपलाई

UPSC Free Coaching: निदेशक समाज कल्याण राकेश कुमार ने बताया कि प्रदेश के 18 मण्डल मुख्यालयों पर 18 दिसम्बर को राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जायेगा. वहीं परीक्षा का पाठ्यक्रम यू.पी.पी.सी.एस (UPPCS) या सिविल सेवा प्रीलिम्स परीक्षा के समान ही होगा.

 | 
Free UPSC Coaching: मिलेगी फ्री UPSC और PCS की कोचिंग, इस दिन होगा Exam, जल्द करें अपलाई

UPSC Free Coaching: यूपीएससी, स्टेट पीसीएस व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए सुनहरा मौका है. दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार ने उन अभ्यर्थियों को फ्री कोचिंग देने का निर्णय लिया है,

जो इन परीक्षाओं की प्राइवेट कोचिंग के लेने में सक्षम नहीं हैं. ऐसे में अनुसूचित जाति, जनजाति व अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों को नि:शुल्क कोचिंग देने के लिए 18 दिसम्बर 2022 को संयुक्त प्रवेश परीक्षा (Common Entrance Test) का आयोजन किया जाएगा.

इस एंट्रेस एग्जाम के लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 नवंबर है. अभ्यर्थी इस ऑफिशियल वेबसाइट  www.socialwelfareup.upsdc.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. परीक्षा के बाद अभ्यर्थियों को मिले अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी और उसी के बेसिस पर अभ्यर्थियों का चयन होगा. 

इतने सीटों के लिए होगी परीक्षा
बता दें कि अभ्यर्थियों के चयन के बाद, जो सीटें उन्हें अलॉट की जाएंगी, उसमें लखनऊ के केंद्र पर सबसे अधिक 250 सीटें हैं. इसके अलावा महिला अभ्यर्थियों के लिए भी लखनऊ केंद्र पर ही 150 सीटें हैं.

इसके बाद हापुड़ केंद्र पर 200 सीटें हैं, जिसमें से 120 सीटें पुरुष अभ्यर्थियों और 80 सीटें महिला अभ्यर्थियों के लिए हैं. इसके अतिरिक्ट वाराणसी, आगरा, अलीगढ़ और गोरखपुर केंद्र पर 100 सीटें हैं. वहीं सबसे कम केवल 50 सीटें प्रयागराज केंद्र पर उपलब्ध हैं.

इस तारीख को होगा परीक्षा का आयोजन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, निदेशक समाज कल्याण राकेश कुमार ने बताया कि प्रदेश के 18 मण्डल मुख्यालयों पर 18 दिसम्बर को राज्य स्तरीय प्रवेश
परीक्षा का आयोजन किया जायेगा. वहीं परीक्षा का पाठ्यक्रम यू.पी.पी.सी.एस (UPPCS) या सिविल सेवा प्रीलिम्स परीक्षा के समान ही होगा.

केवल इन छात्रों को ही मिलेगा लाभ
बता दें कि अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के ऐसे अभ्यर्थी, जिनके परिवार की वार्षिक आय करीब 6 लाख रुपये से कम है, उनके लिए प्रयागराज, लखनऊ, हापुड़, वाराणसी, आगरा, गोरखपुर और अलीगढ़ में होस्टल समेत निःशुल्क कोचिंग और भोजन की व्यवस्था उपलब्ध है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like