Jobs Haryana

Cryptocurrency jobs: बाइनेंस बड़े स्‍तर पर करेगा हायरिंग, दिसंबर तक इतने लोगों को रोजगार देने का टारगेट

Binance hiring: बाइनेंस के सीईओ चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) ने ऐलान किया है कि उनकी कंपनी साल के आखिरी तक कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने वाली है.

 | 
Cryptocurrency jobs: बाइनेंस बड़े स्‍तर पर करेगा हायरिंग, दिसंबर तक इतने लोगों को रोजगार देने का टारगेट

Crypto careers: जहां एक तरफ क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में लोगों का पैसा डूब रहा है. दिनोंदिन क्रिप्टोकरेंसी के दाम में कमी आ रही है. उसी वजह से निवेशक भी इस मार्केट से दूरी बना रहे हैं, लेकिन दूसरी तरफ क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बाइनेंस (Binance) अपनी कंपनी में नए लोगों को रोजगार देने की बात कर रही है. दुनिया की दिग्‍गज कंपनियां जैसे ट्वीटर, गूगल लोगों को बाहर का रास्‍ता दिखा रही है. वहीं दूसरी तरफ दुनिया की बड़ी क्रिप्टोकरेंसी-एक्सचेंज बाइनेंस साल के आखिरी तक नई हायरिंग करने वाली है. ये बात खुद कंपनी के सीईओ ने ट्वीट कर बताई. इस खबर में जानते हैं कि कितने लोगों को नौकरियां मिलने वाली है.        

बाइनेंस देगा नौकरी 

दुनिया की ज्‍यादातर टेक कंपनियां छंटनी कर रही है. वहीं दूसरी तरफ दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी-एक्सचेंज बाइनेंस (Binance) नए लोगों को हायर करने का प्‍लान बना रही है. बाइनेंस (Binance) के सीईओ चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) ने कहा है कि कंपनी इस साल के आखिरी तक अपनी टीम को बढ़ाकर 8,000 करने वाले हैं. उन्‍होंने एक ट्वीट में लिखा है कि, " अभी तक कंपनी में लगभग 5,900 कर्मचारी थे, कुछ दिनों में हायरिंग के बाद ये संख्‍या बढ़कर 7,400 से ज्‍यादा हो चुकी हैं और साल के आखिरी तक हम इसे बढ़ाकर 8 हजार तक करने वाले हैं. 

Cryptocurrency jobs: बाइनेंस बड़े स्‍तर पर करेगा हायरिंग, दिसंबर तक इतने लोगों को रोजगार देने का टारगेट

2,000 पदों पर हायर करने का लिया फैसला 

झाओ ने 15 जून के एक ट्वीट को रिट्वीट करते हुए लिखा है कि, कुछ महीने पहले तक सुपर बाउल विज्ञापनों, स्टेडियम के नाम के राइट्स और बड़े स्पॉन्सर डील्स आदि के लिए ना करना आसान नहीं था, लेकिन हमने किया. यह 2 हजार पदों के लिए हायरिंग का फैसला था. 

The logo of the cryptocurrency exchange 
Binance on a smartphone screen

क्रिप्‍टो एक्सचेंज हुआ धराशायी   

यह फैसला इसलिए भी दिलचस्प है क्‍योंकि कुछ दिनों पहले ही दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज FTX धराशायी हो गया था और उसके मालिक को रातोंरात एक लाख करोड़ रुपये की चपत लग चुकी है. ऐसे में उसकी बड़ी प्रतिद्वंदी बाइनेंस का ये फैसला चौंकाने वाला है. आपको बता दें कि FTX कुछ दिनों से नकदी संकट से जूझ रहा था. उसके बाद बाइनेंस इसे खरीदने वाला था, लेकिन बाद में वह इस डील से पीछे हट गया. जिसके बाद FTX के शेयर धराशायी हो गए.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like