Jobs Haryana

कैमरा पर कॉमेडी, रियल लाइफ में बने विलेन! साजिद खान की जिंदगी नहीं किसी फिल्मी कहानी से कम

बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्देशक साजिद खान (Sajid Khan) आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं.
 | 
कैमरा पर कॉमेडी, रियल लाइफ में बने विलेन! साजिद खान की जिंदगी नहीं किसी फिल्मी कहानी से कम

बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्देशक साजिद खान (Sajid Khan) आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. हिंदी सिनेमा को कई हिट फिल्में देने वाले डायरेक्टर फिलहाल अपनी इमेज को सुधारने के लिए बिग बॉस 16 (Bigg Boss 16) का हिस्सा बने हुए हैं.

बिग बॉस 16 में कई बार लोगों के बीच झगड़ा सुलटाते तो कभी झगड़े का कारण बनने वाले साजिद खान (Sajid Khan Movies) की लाइफ काफी उतार-चढ़ाव से भरी रही है.

साजिद खान (Sajid Khan Childhood) ने बचपन में बेहद गरीबी देखी, वह सड़कों  पर टूथ-पेस्ट बेचा करते तो कभी बीच पर नाचा करते थे. पैसा कमाने के लिए उन्होंने 14-15 साल की उम्र में डीजे के तौर पर काम करना शुरू कर दिया.

साजिद (Sajid Khan Interview) ने एक इंटरव्यू के दौरान अपने जीवन के बारे में बात करते हुए बताया था, उन्होंने अपने कजिन फरहान अख्तर (Farhan Akhtar) के घर से नाइकी के जूते और निकॉन का कैमरा चुराया था.

फिर जब वह पकड़े गए तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल किया, घरवाले साजिद (Sajid Khan) को सबक सिखाने के लिए पुलिस थाने भी लेकर गए थे. कैमरा और साजिद का बचपन से रिश्ता रहा है.

साजिद (Sajid Khan Mother) ने एक बार बताया था, जब उनकी मां काम करती थीं, वह नशे में पड़े रहते थे तब वह खूब सारी फिल्में देखा करते थे. 14 साल की उम्र में पिता की मौत के बाद उन्हें अक्ल आई और उन्होंने काम करना शुरू कर दिया था.

साजिद खान (Sajid Khan Career) अपने करियर के पीक पर थे, लेकिन मी टू आंदोलन के समय कई अभिनेत्रियों ने डायरेक्टर पर यौन शोषण का आरोप लगाया, जिसके बाद साजिद की इमेज एक विलेन के तौर पर तैयार हो गई.

वहीं घमंड के चक्कर में उनकी कई फिल्में भी पिट गईं. यह वही दौर था जब साजिद खान (Sajid Khan Mee Too Accuse) आसमान से आकर जमीन पर गिरे. साजिद ने इसके बाद से अपनी इमेज को सुधारने की ठान ली है.

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like