Jobs Haryana

Chandni Chowk Fire: एशिया की सबसे बड़ी भागीरथ इलेक्ट्रिक मार्केट में भीषण आग, कई दुकानें राख; इमारत को नुकसान

Fire at Old Delhis electronic market चांदनी चौक स्थित भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी भीषण आग पर तकरीबन 12 घंटे में भी काबू नहीं पाया जा सकता है। आग के चलते दुकानदारों को भारी आर्थिक नुकसान की बात कही जा रही है। 

 | 
एशिया की सबसे बड़ी भागीरथ इलेक्ट्रिक मार्केट में भीषण आग, कई दुकानें राख; इमारत को नुकसान

नई दिल्ली। Fire at Old Delhi's Electronic Market देश ही नहीं, बल्कि एशिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक मार्केट में शुमार चांदनी चौक के भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी भीषण आग लगातार दूसरे दिन भी नहीं बुझाई जा सकी है। शुक्रवार सुबह भी यहां की दुकानों में लगी आग को बुझाने का काम जारी है। इस बीच मिली जानकारी के मुताबिक, कई दुकानें जलकर राख हो गईं और लाखों का नुकसान होने का अंदेशा जताया जा रहा है। वहीं, दिल्ली दमकल विभाग के मुखिया अतुल गर्ग के मुताबिक, भगीरथ पैलेस मार्केट बिल्डिंग का अधिकतर हिस्सा क्षतिग्रस्त हो चुका है। इमाारत बहुत नुकसान पहुंचा है।   

30 से अधिक गाड़ियां बुझा रहीं आग 

बृहस्पतिवार रात को भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रिक मार्केट में लगी आग की खबर पर दिल्ली दमकल विभाग की गाड़ियों को मौके पर भेजा गया। वहीं, भीषण आग के मद्देनजर धीरे-धीरे दमकल की गाड़ियों की संख्या बढ़ती रही। मिली जानकारी के मुताबिक, 30 से अधिक गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं, लेकिन शुक्रवार सुबह तक आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। आग बुझाने का काम शुक्रवार सुबह 8 बजे के बाद भी जारी है। 

रातभर अफरातफरी का माहौल 

 आग लगने के बाद दुकानदारों में भी हड़कंप मच गया। अफरातफरी के बीच दुकानदार परेशान नजर आए, क्योंकि आग की चपेट में लगातार एक के बाद एक दुकानें आती जा रही थीं। शुक्रवार रात को 9 बजे के भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रिक मार्केट में चारों तरफ धुआं ही धुआं नजर आया। आग की लपटें दूर-दूर तक नजर आ रही थीं। यह भी जानकारी मिली है कि  भगीरथ पैलेस इमारात का एक हिस्सा देर रात ढह गया। 

हालात के मद्देनजर पुलिस और दमकल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। दिल्ली अग्निशमन विभाग के निदेशक अतुल गर्ग के मुताबिक, भीषण आग लगी है और यहां पर अभी हालात ठीक नहीं हैं। आग पर  काबू पाने का प्रयास जारी है और इमारत का बड़ा हिस्सा नष्ट हो चुका है। बड़ा आर्थिक नुकसान भी हुआ है।  

बताया जा रहा है कि दिल्ली दमकल विभाग के 150 से अधिक जवान देर रात तक आग पर काबू पाने में जुटे हैं और संख्या बढ़ाई गई है। वहीं, पुलिस का कहना था कि आग के इस भीषण हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन दुकानदारों को बड़ा आर्थिक नुकसान जरूर हुआ है। 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like