Jobs Haryana

IAS Story: टीना और अथर को भी पीछे छोड़ता है ये IAS कपल, शेयर करते हैं एक से बढ़कर एक शानदार फोटो

IAS Srushti Deshmukh: दोनों आईएएस बैच 2019 के हैं. आईएएस सृष्टि जयंत देशमुख और अर्जुन गौड़ा के सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैनबेस है. 2018 यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 5 हासिल करने वाली देशमुख ने अप्रैल 2022 में अपने उसी बैच के साथी आईएएस नागार्जुन बी गौड़ा से शादी की. 

 | 
IAS Story: टीना और अथर को भी पीछे छोड़ता है ये IAS कपल, शेयर करते हैं एक से बढ़कर एक शानदार फोटो

IAS Success Story: संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) परीक्षा को देश में सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है. हालांकि, यदि आप ठीक से तैयारी करते हैं, तो आप इसे क्लियर कर सकते हैं. हाल ही में एस्पिरेंट्स नाम की एक वेब सीरीज में यूपीएससी की तैयारी करने वाले तीन दोस्तों की कहानी को दिखाया गया है. आज हम आपको एक ऐसी महिला की कहानी बता रहे हैं, जिसने कई मुश्किलों का सामना करने के बाद यूपीएससी को पास किया क्योंकि वह एक साथ दो परीक्षाओं की तैयारी कर रही थी. अपने पहले प्रयास में भोपाल की रहने वाली सृष्टि जयंत देशमुख ने शानदार AIR 5 हासिल किया.  

यह कपल अक्सर सोशल मीडिया पर एक दूसरे के साथ फोटो शेयर करता रहता है. दोनों आईएएस बैच 2019 के हैं. आईएएस सृष्टि जयंत देशमुख और अर्जुन गौड़ा के सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैनबेस है. 2018 यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 5 हासिल करने वाली देशमुख ने अप्रैल 2022 में अपने उसी बैच के साथी आईएएस नागार्जुन बी गौड़ा से शादी की. 

सृष्टि जयंत देशमुख ने ऑल इंडिया रैंक 5 हासिल की और UPSC CSE 2018 में टॉप महिला उम्मीदवार बनीं. एक रिपोर्ट के अनुसार, सृष्टि जयंत देशमुख ने इंजीनियरिंग के अपने तीसरे साल में सोचा था कि वह एक इंजीनियर के रूप में एक साधारण नौकरी के साथ अपना पूरा जीवन नहीं बिता सकती हैं. जिसके बाद उन्होंने इंजीनियरिंग के साथ-साथ यूपीएससी की तैयारी भी शुरू कर दी. 

सृष्टि जयंत देशमुख का कहना है कि यूपीएससी परीक्षा की तैयारी के साथ-साथ इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना बहुत कठिन था. वह यूपीएससी की तैयारी में सबसे ज्यादा समय और ऊर्जा खर्च करती थीं. वह इंजीनियरिंग की सेमेस्टर परीक्षा के लिए एक से डेढ़ महीने की तैयारी करती थी.  

सृष्टि के परिवार ने हमेशा उसके फैसले का समर्थन किया. सृष्टि की मां एक टीचर हैं और पिता एक इंजीनियर हैं, लेकिन उन्होंने कभी कुछ नहीं पूछा कि वह क्या कर रही थीं और क्यों या कैसे कर रही होंगी. उन्होंने हमेशा सृष्टि को अच्छा माहौल देने का प्रयास किया. 

सृष्टि जयंत देशमुख का कहना है कि यूपीएससी की तैयारी के लिए फोकस बहुत जरूरी है. उन्होंने सोचा कि उसका पहला प्रयास उनका आखिरी प्रयास होगा. इसलिए उन्होंने तैयारी शुरू करने से पहले अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स को डिलीट कर दिया.  

उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि अखबार पढ़ने और राज्यसभा टीवी (आरएसटीवी) देखने से सृष्टि जयंत देशमुख को यूपीएससी की तैयारी में बहुत मदद मिली. इसके अलावा ऑनलाइन स्टडी मटेरियल भी मददगार रहा. 

सृष्टि जयंत देशमुख के मुताबिक, “यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करते समय इस बात का ध्यान रखें कि यह आखिरी मौका है और आपका कंपटीशन लाखों लोगों से नहीं है, क्योंकि परीक्षा में बैठने वाले सभी कैंडिडेट्स सीरिएस नहीं होते हैं. आपका मुकाबला सिर्फ उनसे है जो परीक्षा को गंभीरता से ले रहे हैं, इसलिए मन से डर को दूर कर दें." 

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like