home page

आपकी बेटी को भी सरकार देगी 51 हजार रुपये, जानें कैसे और क्या है ये योजना

 | 
Sukanya Samriddhi Yojana

सरकार देश में कई तरह की लाभकारी और कल्याणकारी योजनाएं चलाती है, जिनका उद्देश्य लोगों तक लाभ पहुंचाना है। इसमें कई तरह की योजनाएं शामिल हैं। वहीं, दूसरी तरफ केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारें तक देश की बेटियों के लिए भी कई तरह की योजनाएं चलाते हैं। दरअसल, आज भी देश की कई जगहों से ऐसी तस्वीरें सामने आती हैं, जिनमें लड़कियों का पिछड़ा पन साफ झलकता है।

लेकिन हम ये नहीं भूल सकते हैं कि देश की बेटियां जब शिक्षित होंगी, तभी भारत सशक्त बनेगा। बेटियों के लिए केंद्र सरकार द्वारा 'प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना' चलाई जाती है। इस योजना को देश के अल्पसंख्यक समाज की लड़कियों में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू किया गया है। तो चलिए आपको इस 'प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना' के बारे में बताते हैं। आप अगली स्लाइड्स में इस बारे में जान सकते हैं...

क्या है ये योजना?

दरअसल, इस योजना का नाम 'प्रधानमंत्री शादी शगुन योजना' है, जिसकी शुरुआत 8 अगस्त 2017 में हुई थी। इस योजना के अंतर्गत शादी से पहले स्नातक की पढ़ाई पूरी करने वाली अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियों को केंद्र सरकार 51 हजार रुपये देती है।

क्या है पात्रता?

बात अगर इस योजना की पात्रता की करें, तो इस योजना का लाभ उन मुस्लिम लड़कियों को मिलता है जिन्होंने स्कूली स्तर पर बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति प्राप्त की हो। बेगम हजरत महल राष्ट्रीय छात्रवृत्ति अल्पसंख्यक यानी मुस्लिम, इसाई, सिख, बौद्ध, जैन और पारसी समुदाय की लड़कियों को दी जाती है।

कब मिलता है लाभ?

बात अगर इस योजना में मिलने वाले लाभ की करें, तो जब कोई अल्पसंख्यक समुदाय की लड़की स्नातक के बाद शादी करती है तो उन्हें केंद्र सरकार की इस योजना के तहत 51 हजार रुपये मिलते हैं।

ऐसे आवेदन कर सकते हैं

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं, तो आपको अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट https://maef.nic.in/schemes पर जाना होगा। यहां जाकर आप इस योजना में आवेदन करके लाभ प्राप्त कर सकती हैं।

Around The Web

Latest News

Featured

You May Like